जासं, पंचकूला : गांव मदनपुर और किशनगढ़ में महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से मनाए जा रहे पोषण जागरूकता अभियान के तहत नुक्कड़ नाटक से लोगों को पोषण का महत्व बताया। जिले में चल रहे पोषण सप्ताह के तहत किए जा रहे नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से लोगों को प्रोटीनयुक्त भोजन लेने के बारे में जागरूक किया जा रहा है, ताकि विशेषकर बालिकाओं को सभी आवश्यक तत्व मिल सकें। यदि ये पोषक तत्व हमारे भोजन में उचित मात्रा में विद्यमान ना हां, तो शरीर अस्वस्थ हो जाएगा।

प्रोटीन, वसा, विटामिन, खनिज लवण व पानी प्रमुख पोषण तत्व हैं। ये आवश्यक तत्व जब सही अनुपात में हमारे शरीर में आवश्यकता अनुसार उपस्थित होते हैं, तब उस अवस्था को ही सर्वोत्तम पोषण या समुचित पोषण अवस्था कहा जाता है। नाटक के माध्यम से स्वस्थ व सक्रिय जीवन जीने के लिए मनुष्य को उचित एवं पर्याप्त पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। शरीर की आहार संबंधी आवश्यकता के तहत पोषक तत्वों की प्राप्ति के लिए अच्छा पोषण या उचित आहार सेवन महत्वपूर्ण है। नियमित शारीरिक गतिविधियो के साथ पर्याप्त, उचित एवं संतुलित आहार अच्छे स्वास्थ्य का आधार है। संतुलित आहार ही मनुष्य के शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए पोषक तत्वों की मांग की पूर्ति करता है तथा मनुष्य को स्वस्थ्य रखता है। महिला एवं बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी भी मौके पर बच्चों को पोषणयुक्त भोजन लेने, जंक फूड का सेवन न करने, मोबाइल के अधिक प्रयोग से बचने व योग करने के बारे में प्रेरित कर रहे हैं, जिसमें ज्यादा से ज्यादा बच्चों, महिलाओं, आंगनबाड़ी सुपरवाइजर, कार्यकर्ता, ग्राम सरपंच व अन्य ग्रामवासी भी भाग ले रहे हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021