पंचकूला, [राजेश मलकानियां]। कुख्‍यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्‍नोई व संपत नेहरा पर शिकंजा कस गया है। बिश्‍नोई और नेहरा व उनके छह साथियों के खिलाफ पंचकूला की कोर्ट में आरोप तय कर दिए गए। उनके पर एक बिजनेसमैन के घर पर फाय‍रिंग करने और अपने एक साथी को अस्‍पताल से भगाने का आरोप है। लारेंस बिश्‍नोई और संपत नेहरा सहित सभी आरोपितों को बुधवार को अदालत में पेश किया गया।

कड़ी सुरक्षा के बीच लारेंस, संपत नेहरा सहित अन्य को किया गया पेश

सभी आरोपितों पर हत्या की कोशिश के तहत आरोप तय किए गए हैं। इन आरोपितों पर सेक्टर 4 में बिजनेसमैन अनिल भल्ला के घर पर फायरिंग करने एवं नागरिक अस्पताल सेक्टर 6 से एक आरोपित दीपक उर्फ टीनू को भगाने के मामले में आरोप तय किए गए। गैंगस्टर लॉरेंस बिश्‍नोई, संपत नेहरा सहित आठ अपराधियों की आज कोर्ट में पेशी हुई। इस मामले पर आरोप तय करने के लिए सुनवाई पूरी हो गई। कोर्ट ने आरोपितों पर भादंस की धारा 307 के तहत हत्या के प्रयास के आरोप तय किए हैं। मामले की अगली सुनवाई अब 19 दिसंबर को होगी।

पंचकूला की अदालत में पेशी के लिए लाया गया गैंगस्‍टर लारेंस बिश्‍नोई।

पंजाब और राजस्थान की जेल में बंद इन आरोपितों को आज पंचकूला के सात एसएचओ और सीआइडी की टीमें कोर्ट में पेशी के लिए लेकर आई। पंचकूला के सेक्टर चार में प्रॉपर्टी डीलर अनिल भल्ला के घर के बाहर फायरिंग  के मामले और सेक्टर 6 स्थित नागरिक अस्पताल से गैंगस्टर दीपक उर्फ टीनू को भगाने के मामले में लॉरेंस बिश्‍नोई की कोर्ट में पेश किया गया। गैंगस्‍टर लारेंस बिश्‍नोई, संपत नेहरा और अन्‍य छह आरोपितों पर पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और राजस्थान में चार दर्जन से ज्यादा आपराधिक मामलों दर्ज हैं।

पंचकूला की अदालत में पेशी के लिए लाया गया गैंगस्‍टर संपत नेहरा।

मामले के अनुसार लारेंस बिश्‍नोई और संपत नेहरा ने सितंबर 2011 को पंचकूला के सेक्टर-चार निवासी अनिल कुमार भल्ला को फोन कर चौथ मांगी थी। भल्‍ला के रुपये न देने की बात कहने पर बदमाशों न उनकी कार और घर पर फायरिंग की थी। इस मामले में दो आरोपितों सूरजपुर निवासी अतुल वर्मा एवं अंबाला कैंट के कबीरनगर निवासी सचिन शर्मा उर्फ गोलू को गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस के अनुसार, अतुल एवं सचिन दोनों 17 सितंबर शाम माजरी चौक पर मिले और सचिन की पल्सर मोटरसाइकिल पर सवार होकर पंचकूला के सेक्टर 4 पहुंचे थे। इसके बाद शाम को अनिल भल्ला को बदमाशों ने पैसे की मांग की। भल्‍ला ने जैसे ही रुपये देने से मना किया तो अतुल एवं सचिन को भल्ला की गाड़ी पर गोली मार देने को कह दिया गया। इसके बाद दोनों ने भल्‍ला की कार और घर पर फायरिंग की और फरार हो गए।

इसके बाद पुलिस की हिरासत में इलाज करा रहे जून 2017 को लूट, डकैती और चोरी के आरोपित दीपक उर्फ टीनू को गैंगस्टर संपत नेहरा पंचकूला के सिविल अस्पताल से छुड़वाकर ले गया था। अपने घुटने का इलाज कराने के बहाने दीपक एक से लेकर 17 जून तक आठ बार जेल से बाहर आया।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: Navjot Singh Sidhu in Pakistan: पाकिस्तान में तो खूब गरजे सिद्धू, भारत आते ही 'गुरु' Silent Mode में

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस