जेएनएन, चंडीगढ़। चाचा- भतीजा के विवाद के कारण चाैटाला परिवार में मचे घमासान के बाद सांसद दुष्‍यंत चौटाला और उनके छाटे भाई दिग्विजय चौटाला को इनेलो से निलंबित करने की असली वजह का खुलासा हाे गया है। दोनों को उनके दादा और इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने पार्टी से निलंबित किया है। उनको जारी किए गए कारण बताओ नोटिस में कार्रवाई का कारण बताया गया है।

अोमप्रकाश चौटाला के निर्देश पर इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला और उनके भाई दिग्विजय चौटाला को भेजे गए नोटिस में उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल बताया गया है। इनेलो के कार्यालय सचिव नच्छत्र सिंह मल्हान की ओर से दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय चौटाला को उनके सिरसा आवास पर नोटिस भेजा गया है। दोनों को भेजे गए नोटिस की भाषा करीब-करीब एक जैसी है।

चौटाला के निर्देश पर कार्यालय सचिव नच्छत्र सिंह ने सिरसा आवास पर भेजा था नोटिस

दुष्यंत चौटाला को भेजे 'पार्टी विरोधी गतिविधि और निलंबन' विषय वाले इस नोटिस में लिखा है ' चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के निर्देशों पर मैं आपको एक नोटिस भेज रहा हूं, जो पार्टी विरोधी गतिविधियों पर है। स्व. चौधरी देवीलाल के 105वें जन्मदिवस के मौके पर गोहाना में हुई रैली में हुई गतिविधियों के लिए आपको दोषी माना जाता है। उस रैली में बहुत बड़ी अनुशासनहीनता हुई है।'

नोटिस में आगे लिखा है, 'आप इसके साथ-साथ पार्टी विरोधी गतिविधियों और पार्टी विरोधी व्यक्तियों के साथ मिलकर रैली में अनुशासहीनता के दोषी हैं। आपको पार्टी की प्राथमिक सदस्यता व अन्य सभी जिम्मेदारियों से निलंबित किया जाता है। आपको एक सप्ताह का समय इसका जवाब देने के लिए दिया गया है। तय समय में जवाब न देने पर अगली अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।'

दुष्यंत चौटाला ऐसा कोई नोटिस मिलने से पहले ही इंकार कर चुके हैैं, जबकि अभय चौटाला भी उनके निलंबन के प्रति अनभिज्ञता जता चुके हैैं। दुष्यंत चौटाला अब जननायक सेवादल को सक्रिय करने में जुटे हुए हैैं।समझा जाता है कि दुष्‍यंत आैर उनके भाई दिग्विजय चौटाला जननायक सेवादल के सहारे अपना राजनीति सफर आगे बढ़ाएंगे।

---------

इनेलो के नए पदाधिकारी घोषित, अजय चौटाला कायम व अरोड़ा पर फिर भरोसा

परिवार में घमासान के बीच इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने पार्टी के पदाधिकारियों की शुक्रवार को घोषणा कर दी। उन्‍होंने अपने बड़े बेटे और दुष्यंत व दिग्विजय के पिता डाॅ. अजय सिंह चौटाला के पद से कोई छेड़छाड़ नहीं की है। चौटाला ने इनेलो के सात बार प्रदेश अध्यक्ष रह चुके अशोक अरोड़ा पर भी फिर से भरोसा जताया है। अशोक अरोड़ा की टीम में डाॅ. अजय चौटाला महासचिव के तौर पर पहले की तरह काम करते रहेंगे।

इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने पार्टी के नए पदाधिकारियों की घोषणा की। इस कमेटी में अधिकतर पदाधिकारी अभय चौटाला समर्थक हैैं। अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति का गठन करने के साथ ही अपने पूर्व सलाहकार शेर सिंह बड़शामी को इसकी बागडोर सौंपी गई है। राजनीतिक मामलों की समिति को सक्रिय करते हुए चौटाला ने उसके सदस्यों के नामों की भी घोषणा कर दी है। अरोड़ा को आठवीं बार प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

यह भी पढ़ें: चौटाला परिवार में घमासान बढ़ा, दुष्यंत के साथ निलंबन के बाद दिग्विजय के बागी तेवर

इनेलो विधायक दल के उप नेता जसविंद्र सिंह संधू, सतबीर शर्मा, ओमप्रकाश माटा, पूर्व विधायक राजेंद्र बिसला और चौधरी सुनील यादव को प्रदेश उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। डाॅ. अजय सिंह चौटाला राष्‍ट्रीय महासचिव के पद पर बने रहेंगे। पूर्व विधायक रामकुमार सैनी, विधायक वेद नारंग विधायक, बूटा सिंह लुक्खी और ईश्वर पलाका को प्रदेश महासचिव  बनाया गया है।

सेक्रेटरी के पदों पर बलदेव सिंह घनघस, रामकुमार ऐबला और महेंद्र सिंह चौहान नियुक्त किए गए। पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा को संगठन सचिव बनाया गया है। राज्य प्रवक्ता का कार्यभार प्रवीण आत्रेय और प्रचार सचिव का काम राजकुमार रिढाऊ को सौंपा गया है। पूर्व मंत्री सुभाष गोयल पार्टी के प्रदेश कोषाध्यक्ष होंगे, जबकि नीति और कार्यक्रम कमेटी के अध्यक्ष ब्रिगेडियर (सेवानिवृत) ओपी चौधरी बनाए गए हैैं।

यह भी पढ़ें: तीन दशक पुराने मोड़ पर वापस पहुंचा चौटाला का परिवार, फूट से टूट की नौबत

ओमप्रकाश चौटाला के पूर्व राजनीतिक सलाहकार और पूर्व विधायक शेर सिंह बड़शामी अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति के अध्यक्ष होंगे। स. नच्छत्र सिंह मल्हान कार्यालय सचिव और मुख्य मीडिया को-आर्डिनेटर प्रो. हरबंस सिंह बनाए गए हैैं।

संसदीय मामले की कमेटी में अजय और अभय चौटाला

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने पार्टी की संसदीय मामले की कमेटी के सदस्यों के नामों की भी घोषणा की है। कमेटी में प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, पूर्व एमपी डॉ. अजय सिंह चौटाला, विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला, पूर्व विधायक शेर सिंह बडशामी, विधायक जसविंदर सिंह संधू, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, पूर्व विधायक मोहम्मद इलियास, डॉ. रामकुमार जांगड़ा, पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, रिटायर्ड डीजीपी एमएस मलिक, रिटायर्ड आइएएस आरएस चौधरी, रिटायर्ड आइएएस बीडी ढालिया, पूर्व विधायक रामपाल माजरा, बनारसी दास, पूर्व विधायक सरोज मोर, अश्विनी दत्ता और ब्रिगेडियर ओपी चौधरी को रखा गया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस