मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा के लोकसभा चुनाव के बाद अब सत्‍ता कर नई जंग शुरू होगी। लोकसभा चुनाव हार का स्वाद चख चुके विपक्षी दलों ने अब नए सिरे से विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। लोकसभा चुनाव में भाजपा के हाथों बुरी तरह से पराजित हो चुके इन दलों को अब किसी चमत्कार की आस है। अक्टूबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा जहां अपना प्रदर्शन पहले से अधिक बेहतरीन करने की लड़ाई लड़ेगी, वहीं कांग्रेस, इनेलो, जजपा, आप, बसपा और लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के नेताओं की कोशिश अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के साथ ही भाजपा को पीछे धकेलने की होगी। चुनाव नजदीक आने के दौरान इन दलों द्वारा भाजपा के विरुद्ध महागठबंधन खड़ा करने की संभावना से भी इन्‍कार नहीं किया जा सका।

खुद का प्रदर्शन सुधारने पर भाजपा का जोर, एलएसपी-बीएसपी ने सोनीपत व आप ने रोहतक में बुलाई बैठकें

हरियाणा की सभी दस लोकसभा सीटों पर भाजपा ने दमदार जीत हासिल कर विरोधी राजनीतिक दलों की मुश्किल बढ़ा दी है। राज्य की हर सीट भाजपा ने भारी मतों के अंतर से जीती है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सोनीपत और उनके बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा रोहतक से चुनाव हार गए। कांग्रेस, जेजेपी, इनेलो, आप, बसपा और लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के मुख्यमंत्री पद के करीब एक दर्जन नेता लोकसभा चुनाव हारे हैं। इस हार के जख्म अभी हरे ही हैं, लेकिन 100 दिन बाद होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटना उनकी मजबूरी हो गई है।

कांग्रेस दिल्ली में 4 जून को तैयार करेगी अगली रणनीति

लोकसभा चुनाव में सात सीटों पर तीसरे नंबर पर रहने वाली लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन ने रविवार को सोनीपत में कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई है। इस बैठक में दोनों दलों के प्रमुख नेता मौजूद रहेंगे। बैठक में विधानसभा चुनाव की रणनीति तैयार होगी। रविवार को ही आम आदमी पार्टी ने रोहतक स्थित पार्टी मुख्यालय में बैठक बुलाई है। पार्टी अध्यक्ष नवीन जयहिंद की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में सभी पदाधिकारी तथा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्यों को भाग लेने के लिए कहा गया है। इस बैठक में सभी जिलों के पदाधिकारियों ने लोकल चुनावी मुद्दों पर फीडबैक लिया जाएगा।

जेजेपी ने रोहतक में 9 को बुलाई बैठक, चौटाला के कंधों पर इनेलो की जिम्मेदारी

कांग्रेस ने 4 जून को दिल्ली में बैठक बुलाई है। इस बैठक में संगठन की मजबूती तथा विधानसभा चुनाव की तैयारी पर चर्चा होगी। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. अशोक तंवर ने भी अपने स्तर पर शनिवार से सभी जिलों में दौरे शुरू कर दिए हैं। इन दौरों का मुख्य उद्देश्य विधानसभा चुनाव की तैयारी है। जननायक जनता पार्टी की 9 जून को बैठक होगी और रणनीति बनाई जाएगी। दुष्यंत चौटाला द्वारा बुलाई गई इस बैठक में सभी राष्ट्रीय व प्रदेश पदाधिकारियों को शिरकत करने के लिए कहा गया है। इसमें लोकसभा चुनाव के दौरान सामने आई पार्टी की खामियों को दूर कर आगे बढ़ा जा सके।

इनेलो को अब अपनी पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला का ही आसरा बचा है। चौटाला ने पैरोल पर बाहर आते ही जनसंपर्क अभियान शुरू कर दिया है, जबकि इनेलो विधायक दल के नेता अभय सिंह चौटाला भी अपने स्तर पर संगठन की बैठकों का दौर शुरू कर रहे हैं। सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन के मुताबिक भाजपा ने लोकसभा में सभी दस सीटों पर जीत दर्ज की है। अब समूची पार्टी पूरी एकजुटता के साथ मिशन 80 प्लस लेकर मैदान में उतरेगी, जिसकी तैयारी शुरू हो चुकी है। इसी रणनीति को सत्ता व संगठन के स्तर पर अमलीजामा पहनाने के लिए बैठकों का आयोजन होगा।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप