राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। हरियाणा पुलिस के जवानों को हरियाणा रोडवेज की बसों में बैठकर प्रदेश से बाहर जाने पर किराया देना होगा। पुलिस कर्मी अब सिर्फ हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में ही रोडवेज बसों में मुफ्त यात्रा का लाभ उठा सकेंगे।

अंबाला के साथ ही कुछ अन्य रोडवेज महाप्रबंधकों ने परिवहन निदेशक कार्यालय द्वारा 31 दिसंबर 2019 को जारी आदेशों को सख्ती से लागू करने के निर्देश जारी किए हैं।           

यह भी पढ़ें: वाट्सएप पर धोखाधड़ी करने वालों से बचें, पंजाब पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, जानें क्या है वजह

सभी परिचालकों से कहा गया है कि नियमानुसार दूसरे राज्यों में जाने वाली बसों में कोई पुलिस कर्मी मुफ्त सफर नहीं कर सकता, इसलिए उनसे सामान्य यात्री की तरह पूरा किराया लिया जाए।

इसके अलावा उड़नदस्तों को भी बगैर टिकट मिलने वाले पुलिस कर्मियों से दस गुणा जुर्माना वसूलने के निर्देश दिए हैं। इस फैसले से उन पुलिस कर्मचारियों पर बोझ पड़ेगा जो रोडवेज बसों में हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान जाते रहते हैं।

यह भी पढ़ें: कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा बयान, कहा- भगवंत मान पूछें तो अवैध खनन में लिप्त सफेदपोशों के नाम देने को तैयार

हालांकि जुलाई 2020 में जारी आदेश में उन पुलिस कर्मियों को बगैर टिकट यात्रा करने की छूट दी गई थी जो बेल जंपर्स, भगौड़ों को कोर्ट के समन, वारंट जारी करने और किसी मामले की जांच-पड़ताल के लिए दूसरे प्रदेशों में जाते हैं। इस बार ऐसी कोई छूट पुलिस कर्मचारियों को नहीं दी गई है।

यह भी पढ़ें: गुरुग्राम, फरीदाबाद सहित हरियाणा में अब फ्री में नहीं बजेगा शादी में गाना, म्यूजिक कंपनी से लेना होगा लाइसेंस

गौरतलब है कि पुलिस व जेल कर्मचारियों के वेतन से हर महीने हरियाणा परिवहन में यात्रा करने के लिए 170-180 रुपये काटे जाते हैं जिससे उन्हें रोडवेज की बसों में बिना टिकट यात्रा की सुविधा मिलती है।

Edited By: Kamlesh Bhatt