जागरण संवाददाता, पंचकूला : शुक्रवार सुबह आधे घंटे की तेज बरसात ने नगर निगम और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के सिस्टम की पोल खोल दी। बरसात के बाद सड़कों एवं घरों के अंदर पानी जमा हो गया। एक घंटे तक सड़कों पर दो से तीन फुट तक पानी जमा रहा। परंतु कोई अधिकारी या कर्मचारी लोगों की सुध लेने नहीं आया। लगभग दो घंटे बाद जब पानी निकला तो लोगों ने राहत की सांस ली। ड्रेनेज सिस्टम, रोड-गली एवं नालियों की सफाई न होने के कारण बरसात का पानी सड़कों पर था। इस दौरान कई लोगों के वाहनों में पानी घुस गया और गाडि़यां बंद हो गई। शहर के चौकों एवं निचले सेक्टरों में हालत काफी खराब देखने को मिली। परंतु अधिकारियों की लापरवाही भी देखने को मिली। लोगों ने नगर निगम के अधिकारियों को कई बार फोन किए लेकिन कोई नहीं आया। सेक्टर-10, 15, 16, 19 और 20 में पानी भरने के कारण लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। सेक्टर-19 के कई घरों में पानी घुस गया। सेक्टर-15 की पार्किग एरिया जलमग्न हो गया और कुछ दुकानों की बेसमेंट में भी पानी घुस गया। सेक्टर-10, 16 के कुछ घरों में पानी घुस गया। हाउस ऑनर्स वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर-10 के चेयरमैन भारत हितैषी ने बताया कि खड़ी कारें आधी डूब चुकी थी। मकान-465 से 485 तक पानी भरा था। भारत हितैषी ने बताया कि इस संबंध में नगर निगम के प्रशासक को भी ज्ञापन दिया गया है। सेक्टर-5 में पिछले कई दिन से गेहूं सुखाने एवं साफ करने के लिए किसान आए हुए हैं। बरसात आई तो गेहूं पूरी तरह भीग गई। तीन फुट पानी भर गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस