राजेश मलकानियां, पंचकूला : पेड पार्किग को लेकर शुरू हुआ घमासान तो थम गया है, लेकिन पंचकूला के डीसी मुकुल कुमार नगर निगम प्रशासक के फैसले के साथ है। डीसी का कहना है कि दो दिन का ट्रायल केवल फीडबैक के लिए था। फीडबैक नगर निगम को मिल गया है। अब नगर निगम की जिम्मेदारी है कि वह लोगों के फीडबैक के हिसाब से सुविधाएं दे। पार्किग पेड करनी है या फ्री, यह निर्णय नगर निगम को लेना है। परंतु पार्किग व्यवस्था अच्छी हो, इसके हक में जिला प्रशासन भी है। दरअसल नगर निगम प्रशासक द्वारा शनिवार और रविवार को पंचकूला में सेक्टर-8, 9 और 10 में पेड पार्किग कर दी गई थी। पेड पार्किग के बाद जमकर हो हल्ला मचा। विरोधी दल तो भड़क ही रहे थे, विधायक को भी प्रेस कांफ्रेंस करनी पड़ गई। विधायक ज्ञानचंद गुप्ता ने स्पष्ट कर दिया कि पंचकूला में पार्किग फीस नहीं लगेगी। स्मार्ट सिटी के लिए जवाब देना होगा मुश्किल

पेड पार्किग से पंचकूला को हर साल करोड़ों रुपये का रेवेन्यू आना है। स्मार्ट सिटी में शामिल होने के लिए नगर निगम में पेड पार्किग होना एक अहम हिस्सा है। जब स्मार्ट सिटी के लिए सवाल-जवाब होंगे, तो पेड पार्किंग का जवाब देना अधिकारियों के लिए मुश्किल हो जाएगा और फिर यही राजनीतिज्ञ नगर निगम के अधिकारियों की जुबानी बाणों से खाल उधेड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। दो दिन में कमाए डेढ़ लाख से ऊपर

पंचकूला में दो दिन में लगाई गई पेड पार्किग से एक लाख 63 हजार रुपये की आय हुई है। ऐसे में मासिक आंकड़ा लगभग 50 से 60 लाख रुपये पहुंच जाएगा, अगर सभी पार्किगों को पेड कर दिया गया। निगम प्रशासक राजेश जोगपाल पर आरोप लग रहे है कि उन्होंने लोगों, राजनीतिक पार्टियों की राय लिए बिना ही पेड पार्किग का फैसला कर लिया। परंतु दो दिन का ट्रायल था ही पेड पार्किग का फीडबैक के लिए। लोगों को किस प्रकार दिक्कतें होंगी, जिस तरह की स्टाफ मैनेजमेंट, गाड़ियों की मैनेजमेंट करनी है, इन सभी बातों को जानने के लिए ट्रायल किया गया है। ऐसी होंगी फ्री सुविधाएं

नगर निगम द्वारा ट्रायल के बाद विभिन्न तरह की फीडबैक मिलने के बाद राजनीतिक एवं सामाजिक विरोध के चलते पार्किग को बुधवार से रेगुलेट कर दिया जाएगा। पार्किग में सभी सुविधाएं नि:शुल्क दी जाएंगी। लगभग 20 कर्मचारी इस काम में लगाए जा रहे है। जोकि पार्किग में आने वाली गाड़ियों को टोकन देंगे। उनकी गाड़ियों को मार्क की गई जगह पर पार्क करवाएंगे। दोपहिया वाहनों के लिए अलग से स्थान निर्धारित होगा। पार्किग में शौचालय, पीने के पानी भी सुविधा भी फ्री दी जाएगी। सूत्रों के अनुसार जब लोगों का अच्छा फीडबैक मिलना शुरू हो जाएगा, तो पंचकूला में पेड पार्किग लागू करने के लिए फैसला कर लिया जाएगा। जोगपाल ने किया निरीक्षण

पार्किग को रेगुलेट करने के लिए नगर निगम प्रशासक राजेश जोगपाल ने सोमवार को निगम के एसई, एक्सईएन और म्यूनिसिपल इंजीनियर के साथ सेक्टर-8, 9 और 10 का दौरा किया। उन्होंने पार्किग में रीकारपेंटिंग करवाने, टूटी हुई ग्रिलों को ठीक करवाने, आने और जाने के रास्तों को ठीक करवाने सहित अन्य सुविधाओं के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।

Posted By: Jagran