जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा के काॅलेजों और विश्‍वविद्यालयों में छात्र संघ चुनावों के लिए नामांकन की प्रक्रिया संपन्‍नहै। नामांकन की प्रक्रिया सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक चली। दूसरी ओर, अप्रत्‍यक्ष तरीके से कराए जा रहे इस चुनाव के विरोध एनएसयूआइ और एसएफआइ सहित 16 छात्र संगठन उतर आए। इन संगठनों ने शुक्रवार सुबह चुनाव के विरोध में कॉलेजों व विश्‍व‍विद्यालयों में प्रदर्शन किया। इससे कई जगहाें पर स्थिति तनावपूर्ण हाे गई। रोहतक के महर्षि दयानंद विश्‍वविद्यालय (मदवि) में हंगामा हो गया अौर पुलिस काे लाठीचार्ज करनी पड़ी। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के गेट पर भी पुलिस ने प्रदर्शनकारी छात्रों पर हल्‍का लाठीचार्ज किया।

छात्रसंघ चुनाव के लिए आज सुबह 10 बजे काॅलेजों और विश्‍वविद्यालयों में नामांकन का काम शुरू हुआ। इस चुनाव के लिए कॉलेजों व विश्‍व‍विद्यालयों में कड़ी सुरक्षा की गई है। नामांकन प्रक्रिया की व‍ीडियोग्राफी भी करई जा रह है। नामांकन की प्रक्रिया शुरू हुई थी कि इनसो और अन्‍य संगठनों के सदस्‍यों ने विभिन्‍न जगहों पर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।

राेहतक के मदवि के गेट नंबर एक पर पुलिस व प्रदर्शनकारी छात्रों के बीच टकराव का दृश्‍य।

रोहतक के मदवि में बड़ी संख्‍या में विभिन्‍न संगठनों के सदस्‍य जमा हो गए और प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने नामांकन प्रक्रिया बाधित करने की कोशिश की। इस पर पुलिस ने उनको राेकने की कोशिश की तो टकराव हो गया। एमडीयू के गेट नंबर एक पर पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज किया। इससे कई छात्रों को चोटें आईं। पुलिस ने इनसो नेता प्रदीप देशवाल को गिरफ्तार किया है। विश्‍वविद्यालय में तनाव की हालत है।

हिसार में भी छात्र संघ चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया के विरोध में इनसो और अन्‍य संगठनों के सदस्‍याें ने प्रदर्शन किया। हिसार के जाट कॉलेज व कुछ अन्‍य कॉलजों में विरोध प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की और विद्यार्थियों को छात्र संघ चुनाव का बहिष्‍कार करने की अपील की। फतेहाबाद में भी इनसो के सदस्‍यों ने प्रदर्शन किया।

हिसार में  प्रदर्शन करते छात्र संगठनों के सदस्‍य।

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में भी छात्र संघ चुनाव के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है। इंडियन नेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन स्टूडेंट, फेडरेशन ऑफ इंडिया, डॉक्टर अंबेडकर स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया और नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआइ) शामिल है। छात्र संगठनों के विरोध को देखते हुए कुरुक्षेत्र विश्‍वविद्यालय के गेट को बंद कर दिया गया। इससे विद्यार्थियों को बहुत दिक्‍कत हुई और वे चारदीवारी फांद कर विश्‍वविद्यालय के अंदर जाते देखे गए।

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में तो गेट खुलवाने के लिए पुलिस को हल्‍का लाठीचार्ज करना पड़ा। वहीं, पानीपत में इनसो से जुड़े छात्रों ने आर्य कॉलेज के गेट के बाहर प्रदर्शन किया। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में एबीवीपी को छोड़कर बाकी अन्य सभी छात्र संगठनों ने चुनाव का बहिष्कार किया है।

कुरुक्षेत्र विश्‍वविद्यालय में दीवार फांदकर जाते अंदर जाते विद्यार्थी।


छात्र कुरुक्षेत्र विश्‍वविद्यालय के गेट के आगे बैठ गए। नामांकन का समय दोपहर एक बजे तक का ही था। साढ़े बारह बजे तक भी जब गेट नहीं खुला तो जिले के एसपी मौके पर पहुंचे। उन्‍होंने छात्र नेताओं को खदेड़ने का निर्देश जारी कर दिया। इतना सुनते ही पुलिस ने हल्‍का लाठीचार्ज शुरू कर दिया। करीब बीस मिनट बाद गेट खुल सके।

जींद में भी काफी हंगामा हुआ। अप्रत्यक्ष चुनाव के विरोध में छात्र संगठनों के सदस्‍यों ने गिरफ्तारी दी। छात्र संगठनों के सदस्‍यों ने सीआरएसयू के गेट पर धरना दिया। उन्होंने विश्वविद्यालय के कुलपति को भी अंदर नहीं जाने दिया।

जींद में प्रदर्शन करते छात्र संगठनों के सदस्‍य।

शुक्रवार शाम तक फाइनल होंगे चुनावी समर के चेहरे, सरकार ने बढ़ाई निगरानी

17 अक्टूबर को 293 कॉलेज और यूनिवर्सिटियों में छात्र संघ चुनाव होने हैं जिसमें करीब साढ़े चार लाख छात्र वोट डालेंगे। बृहस्पतिवार को सभी उच्चतर शिक्षण संस्थानों में चुनाव लड़ने के इच्छुक युवा छात्रों से समर्थन जुटाते दिखे। भाजपा के छात्र मोर्चा अभाविप ने जहां अपने प्रत्याशी फाइनल कर लिए हैं, वहीं ज्यादातर विपक्षी छात्र संगठन चुनाव नहीं होने देने की रणनीति बनाने में जुटे रहे।

फतेहाबाद के एक कॉलेज के गेट पर प्रदर्शन करते इनसो के सदस्‍य।

यूं चली नामांकन की प्रक्रिया

कक्षा प्रतिनिधियों (सीआर) के लिए शुक्रवार शाम चार बजे तक नामांकन किया गया। नामांकन फार्म संबंधित विभागाध्यक्षों के कार्यालय से लेकर वहीं जमा कराने होंगे। शाम पांच बजे नामांकित उम्मीदवारों की सूची सार्वजनिक कर दी गई। शनिवार सुबह दस बजे तक आपत्तियां दर्ज कराई जा सकेंगी और दोपहर 12 बजे तक उम्मीदवारों को नाम वापस लेने की छूट रहेगी। शाम चार बजे प्रत्याशियों की फाइनल सूची जारी हो जाएगी।

17 को पहले सीआर और फिर कार्यकारी विद्यार्थी परिषद के चुनाव

17 अक्टूबर को सुबह 9:30 से 11:30 बजे तक सीआर के लिए मतदान होगा। मतगणना के बाद दोपहर एक बजे सीआर के परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे। इसके बाद कार्यकारी विद्यार्थी परिषद के पदाधिकारियों तथा सदस्यों के लिए नामांकन करने को दोपहर दो से ढाई बजे तक का समय मिलेगा। नामांकन पत्रों की जांच और नाम वापसी के बाद दोपहर 3:30 बजे उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी कर दी जाएगी। इसके तुरंत बाद दो घंटे तक मतदान चलेगा और शाम 5:45 पर चुनाव परिणाम घोषित कर दिया जाएगा।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha