चंडीगढ़ [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा विधानसभा में पहली बार चुनकर आए विधायकों को विधायी कार्यों की ट्रेनिंग दी जाएगी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला इन नव निर्वाचित विधायकों को विधायी कार्यों की जानकारी देंगे। इसके अलावा विशेषज्ञों को भी आमंत्रित किया जाएगा। विधायकों का प्रशिक्षण शिविर दिसंबर माह के अंतिम अथवा जनवरी माह के पहले सप्ताह में संभव है।

हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को विधायकों के प्रशिक्षण शिविर में आने का निमंत्रण दिया है। उनकी ओर से बिरला को पत्र भी लिखा जा रहा है। बिरला ने हालांकि विधायकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में आने की सहमति दे दी है, लेकिन इसकी तारीख बिरला के कार्यक्रम के हिसाब से तय की जाएगी।

हरियाणा के नव निर्वाचित विधायकों का प्रशिक्षण शिविर दो दिन का होगा, जो पंचकूला या चंडीगढ़ में संभव है। विधानसभा सचिवालय इस कार्यक्रम की तैयारियों में जुटा है। राज्य की मौजूदा 90 सदस्यों वाली विधानसभा में 44 विधायक पहली बार चुनाव जीतकर आए हैं, जबकि 30 विधायक दूसरी बार विधानसभा पहुंचे हैं। इसके अलावा 16 विधायक ऐसे हैं जो दो से अधिक बार चुनकर आए। तीन विधायक पांचवीं से छठी बार विधानसभा पहुंचे हैं।

मनोहर सरकार के पहले कार्यकाल में मुख्यमंत्री के अलावा तत्कालीन स्पीकर कंवरपाल गुर्जर समेत 40 विधायक पहली बार विधानसभा पहुंचे थे। तब उनके लिए भी कार्यशाला का आयोजन किया गया था। इस बार सरकार ने फिर से नए विधायकों को प्रशिक्षण प्रदान करने का फैसला किया है। इस प्रशिक्षण के दौरान विधायकों को लैपटॉप भी प्रदान किए जा सकते हैैं।

उत्तराखंड कार्यशाला में जाएंगे स्पीकर व डिप्टी स्पीकर

लोकसभा सचिवालय की ओर से 17 से 19 दिसंबर तक उत्तराखंड के देहरादून में सभी राज्यों के विधानसभा स्पीकर और डिप्टी स्पीकर के लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में विधायिका के कामकाज में आ रहे बदलाव के बारे में विचार-विमर्श किया जाएगा। विधानसभाओं को पेपरलैस बनाने की दिशा में भी मंथन किया जा सकता है। हरियाणा के विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता और डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा इस शिविर में भागीदारी करने जाएंगे।

लोकसभा अध्यक्ष से मांगा गया है समय

विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता का कहना है कि हरियाणा विधानसभा में इस बार कई विधायक पहली बार जीतकर आए हैैं। उन्हें विधायी कार्यों, मुद्दे उठाने, सवाल पूछने, ध्यानाकर्षण प्रस्ताव, काम रोको प्रस्ताव और शून्य काल में उठाए जाने वाले मुद्दों की जानकारी देना जरूरी है। बिल पर चर्चा भी अहम बिंदुु रहेगा। इसके लिए हम दो दिवसीय ट्रेनिंग कैंप का आयोजन कर रहे हैैं। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से समय मांगा गया है। मेरी मुलाकात हुई और हम उन्हें पत्र भी लिख रहे हैैं। उनका समय मिलते ही शिविर की तारीख तय कर दी जाएगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस