जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की पहली किस्त के रूप में राज्य के करीब पांच लाख किसानों को लगभग 100 करोड़ रुपये का तोहफा दिया है। प्रदेश सरकार अपने बजट में भी किसानों, मजदूरों और ग्रामीण क्षेत्र को कई तोहफे देने की तैयारी में है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत की। राज्य के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने पंचकूला में इस योजना के तहत किसानों को खुश कर दिया। राज्य में करीब साढ़े 16 लाख किसान हैं। इनमें से 11 लाख 72 हजार 313 किसानों ने पंजीकरण करा लिया है।

कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के अनुसार करीब 10 लाख किसानों का डाटा वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। सम्मान निधि हासिल करने के लिए किसानों के पंजीकरण की प्रक्रिया जारी है, जो लगातार बढ़ सकती है। राज्य के किसानों को कुल 720 करोड़ रुपये की राशि बांटी जाएगी। इसकी पहली किस्त 240 करोड़ रुपये बनती है। इसमें से रविवार को पांच लाख किसानों को 100 करोड़ रुपये बांट दिए गए हैं।

ओमप्रकाश धनखड़ के अनुसार हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्य है, जिसने एक पखवाड़े में करीब 12 लाख किसानों को प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना के दायरे में ला दिया है। यह आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब बजट में भी राज्य सरकार किसानों, मजदूरों और ग्र्रामीणों पर खास फोकस रखने वाली है।

कृषि मंत्री के अनुसार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा के साथ महेंद्रगढ़ के कुदाना गांव से इस योजना के तहत किसानों के खाते में सम्मान निधि ट्रांसफर कराई। इसके अलावा विभिन्न मंत्रियों, विधायकों और सांसदों ने अपने-अपने क्षेत्र में किसानों के खाते में सम्मान निधि ट्रांसफर कराई है, जो लगातार अगले दिनों में चलती रहेगी।

ग्रामीण टोलियों की मेहनत से पंजीकृत हुए 11.72 लाख किसान

आंकड़ों पर गौर करें तो अंबाला में 39347, भिवानी में 63545, चरखी दादरी में 35711, फरीदाबाद में 22803, फतेहाबाद में 56720, गुरुग्राम में 21200, हिसार में 90000, झज्जर में 61445, जींद में 109805, कैथल में 60862, करनाल में 54410, कुरुक्षेत्र में 54776, महेंद्रगढ़ में 67380, मेवात में 45198, पलवल में 55610, पंचकूला में 18170, पानीपत में 42986, रेवाड़ी में 45997, रोहतक में 44025, सिरसा में 72239, सोनीपत में 63083, यमुनानगर में 44329 किसानों का ग्रामीण टोलियों ने पंजीकरण किया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt