चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा में लाॅक डाउन (Lock down) के चलते राज्य पुलिस का मानवीय चेहरा भी सामने आया है। राज्य के विभिन्न जिलों में पुलिस कर्मचारी न केवल जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं, बल्कि उन्हें समझा बुझाकर आश्रय स्थलों तक भी पहुंचा रहे हैं। प्रदेश में लाकडाउन का उल्लंघन करने वालों की भी कमी नहीं है। लाकडाउन के उल्लंघन के आरोप में अभी तक 610 एफआइआर दर्ज कर 745 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है तथा 3407 वाहनों को जब्त किया गया है।

आश्रय स्थलों पर जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हरियाणा पुलिस के जवाब

हरियाणा पुलिस ने श्रमिकों, प्रवासी मजदूरों और दूसरे राज्यों में जाने की चाह रखने वाले कामकाजी लोगों को रोकने एवं कोविड-19 के संक्रमण को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए सभी अंतरराज्यीय सीमाओं को सील कर दिया है। राज्य में पुलिसकर्मियों द्वारा विभिन्न नाकों पर ड्यूटी दी जा रही है। साथ ही गरीबों और जरूरतमंदों को भोजन व दैनिक आवश्यकता की अन्य वस्तुएं भी मुहैया करवाई जा रही हैं।

लाॅकडाउन तोड़ने पर 610 एफआइआर, 745 गिरफ्तारी, 3407 वाहन जब्त

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने भी राज्य पुलिस की कार्य प्रणाली की तारीफ की है। पुलिस महानिदेशक मनोज यादव निरंतर सभी पुलिस अधीक्षकों के संपर्क में हैं और उनका पूरा अपडेट ले रहे हैं। गृह सचिव विजयवर्धन को पूरी रिपोर्ट दी जा रही है। उनके जरिये यह रिपोर्ट गृह मंत्री व मुख्यमंत्री तक पहुंच रही है।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क के अनुसार पुलिस ने राज्य में सख्त लाकॅडाउन सुनिश्चित करने के लिए व्यापक प्रबंध किए हैं। प्रदेश में स्थापित किए गए 461 अस्थाई आश्रयों में से किसी एक में स्थानांतरित होने के लिए राजी कर प्रवासी मजदूरों के आवागमन को रोका गया है।

नवदीप विर्क के अनुसार विभिन्न नाकों पर तैनात पुलिस अधिकारी और जवान लोगों विशेष रूप से गरीबों, बेघरों, जरूरतमंदों और बीमार लोगों को हर संभव सहायता उपलब्ध करवा रहे हैं। सरकार के निर्देशानुसार उद्योगपतियों और कारखाना मालिकों को भी सलाह दी गई है कि वे संकट के इन हालातों में अपने कर्मचारियों की हर तरह की मदद करें।

डीजीपी मनोज यादव के अनुसार राज्य में लॉकडाउन के दौरान, आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी सार्वजनिक गतिविधियों पर प्रतिबंध है। हालांकि राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर वाहनों में जरूरी आवाजाही को अनुमति है। इसे ध्यान में रखते हुए लोगों को अनावश्यक रूप से सड़क पर घूमने से बचने की सलाह दी गई है। नवदीप विर्क के अनुसार किसी आपात स्थिति में बाहर जाते समय नागरिकों को सोशल डिस्टेंसिंग सहित सभी नियमों का पालन करना चाहिए।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें: सरकारी कर्मचारियों को समय से मिलेगा वेतन, लाॅक डाउन में गैरहाजरी की सैलरी नहीं

 

यह भी पढ़ें: आटा, दाल और चावल की दर तय करने के बाद भी नहीं रुक रही कालाबाजारी

 

यह भी पढ़ें: पंजाब में कर्फ्यू की अवधि 14 अप्रैल तक बढ़ाई गई, सभी परीक्षाएं भी स्‍थगित


यह भी पढ़ें: हारेगा कोरोना: हरियाणा में इंट्री रोकने को पंजाब, दिल्ली, राजस्थान और यूपी की सीमाएं सील


 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस