मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

लंदन [बिजेंद्र बंसल]। विश्वभर के ऑटोमोबाइल बाजार में इलेक्ट्रिक वाहनों की आहट से ऑटोमोबाइल क्षेत्र के उद्यमी भी अपने परंपरागत उत्पादों में बदलाव करना चाहते हैं। लंदन में भारतीय उच्चायोग की तरफ से इंडो यूरोपियन बिजनेस फोरम के तत्वावधान में आयोजित हरियाणा बिजनेस मीट में एकत्र यूनाइटेड किंगडम के उद्यमियों ने साफ कर दिया है कि आने वाला समय इलेक्ट्रिक वाहनों का है।

इस मीट में उद्यमियों ने हरियाणा सरकार की तरफ से निवेश का न्यौता देने पहुंचे उद्योग मंत्री विपुल गोयल, उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह, हरियाणा राज्य औद्योगिक संरचना विकास निगम (एचएसआइआइडीसी) के प्रबंध निदेशक डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ भी मौजूद रहे। इंडो यूरोपियन बिजनेस फोरम के चेयरमैन विजय गोयल ने दिल्ली के नजदीक हरियाणा के एनसीआर जिले गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पानीपत को इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने के उद्योग लगाने के लिए सबसे उपयुक्त बताया।

गोयल ने मांग रखी कि जिस तरह केंद्र सरकार ने इलेक्ट्रिक व्हीकल प्रोत्साहन नीति बनाई है उसी तरह हरियाणा भी अपनी अलग से इलेक्ट्रिक व्हीकल प्रोत्साहन नीति बनाए। गोयल के इस सुझाव को यूके के कई बड़े उद्योगपतियों ने भी माना। इसके बाद उद्योग मंत्री विपुल गोयल से मंत्रणा करके उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह ने बताया कि हरियाणा सरकार अलग से इलेक्ट्रिक व्हीकल नीति बनाएगी। इसमें इलेक्ट्रिक वाहन या वाहनों के कंपोनेंट बनाने वाली कंपनियों को प्राथमिकता पर जगह देने से लेकर अन्य सुविधाएं प्रदान करने के नियम कायदे काफी सरल होंगे।

दैनिक जागरण से बात करते हुए देवेंद्र सिंह ने साफ किया कि हरियाणा चूंकि दिल्ली के नजदीक है। अभी अगले पांच से दस साल तक उत्तर भारत में दिल्ली एनसीआर क्षेत्रों में इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग ज्यादा बढ़ेगी, इसलिए हरियाणा सरकार चाहती है कि इलेक्ट्रिक वाहन बनाने वाली कंपनियां हरियाणा में निवेश करें। देवेंद्र सिंह ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन नीति शीघ्र ही बना दी जाएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी अपनी सहमति दे दी है।

विपुल गोयल ने उद्योगपतियों को दिया हरियाणा में निवेश का न्योता

लंदन की ब्रेकर स्ट्रीट-55 में आयोजित इस इंवेस्टर्स मीट में हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने यूके के बड़े उद्यमियों को हरियाणा में निवेश करने का न्यौता दिया। साथ ही विपुल गोयल ने कहा कि जिस तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में भाजपा की सरकार दोबारा बनी है, उसी तरह हरियाणा में भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में दोबारा भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

उन्होंने बताया कि भाजपा ने भारतीय राजनीति में उठा-पठक को खत्म करने का काम किया है। इससे उद्यमियों को सबसे ज्यादा फायदा हो रहा है। अब राजनीतिक अस्थिरता के चलते उद्यमी के माथे पर चिंता की लकीरें नहीं पड़ती। गोयल ने कहा कि हरियाणा ने कारोबारी सहूलियत (ईज ऑफ डूइंग बिजनेस) में पिछले पांच साल में 14वें स्थान से तीसरा स्थान पाया है। उत्तर भारत के राज्यों में कारोबारी सहूलियत के क्षेत्र में हरियाणा का पहला स्थान है। यह हरियाणा की औद्योगिक प्रोत्साहन नीति के चलते हुए है। पूरे विश्व के उद्यमी हरियाणा में अपना उद्योग लगाना चाहते हैं। इस मौके पर ब्रिटिश उच्चायोग से लेकर अनेक उद्यमियों ने अपने विचार रखे।

आर्थिक मंदी की आहट में भारतीय बाजार पर है विश्व की नजर

आर्थिक मंदी की आहट के बावजूद यूनाइटेड किंगडम के बड़े उद्यमी मानते हैं कि भारतीय बाजारों में मंदी का कोई असर नहीं होगा। इन उद्यमियों का कहना है कि भारतीय बाजारों में मांग का स्तर लगातार बढ़ रहा है। ऐसे भारत मंदी से ठीक 2008 की तरह निकल जाएगा। इसके अलावा उद्यमी यह भी मानते हैं कि भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में स्थिर सरकार है, इसलिए अगले पांच साल तक भारत में किसी भी तरह का व्यापार करने में कोई घाटा नहीं हो सकता।

इंडो-यूरोपियन बिजनेस फोरम के तत्वावधान में लंदन की ब्रेकर स्ट्रीट में आयोजित हरियाणा बिजनेस मीट के दौरान होटल व्यवसाय से जुड़ी उद्यमी गीतांजलि बहल का कहना है कि भारत और खासतौर पर दिल्ली एनसीआर के क्षेत्र में हर व्यवसाय में बढ़ोतरी होनी है। गीतांजलि का कहना है कि लंदन सहित पूरे यूनाइटेड किंगडम के बड़े उद्यमी चाहते हैं कि भारत में निवेश करें। भारत में जो राज्य दिल्ली के नजदीक औद्योगिक विस्तार के लिए संसाधन उपलब्ध कराएगा, उसको इस समय सबसे बड़ा लाभ मिलेगा।

इंडो यूरोपियन बिजनेस फोरम के चेयरमैन विजय गोयल ने बताया कि भारतीय बाजारों में खरीददारी की क्षमता लगातार बढ़ रही है। क्लीनिकल क्षेत्र से जुड़ी निशा सोनी का मानना है कि मौजूदा समय में भारत ही औद्याेगिक विस्तार के लिए सबसे उपयुक्त देश है, इसलिए पूरे विश्व के बड़े उद्यमियों की नजर भारत पर है। इस दौरान हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने उद्यमियों को विश्वास दिलाया कि हरियाणा में उनके लिए बेहतर सुविधाएं सरकार की तरफ मुहैया कराई जाएंगी। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप