जेएनएन, चंडीगढ़। राजधानी चंडीगढ़ और पानी को लेकर पंजाब से जूझ रहे हरियाणा ने अब पंजाब विश्वविद्यालय (पीयू) में अपना हिस्सा मांगा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को चिट्ठी लिख पंजाब विवि में हरियाणा के हिस्से को बहाल कराने की गुजारिश की है। इसके लिए हरियाणा इस यूनिवर्सिटी को पंजाब सरकार के बराबर अनुदान देने को भी तैयार है।

पंजाब विश्वविद्यालय में हरियाणा के हिस्से की बहाली हुई तो चंडीगढ़ के साथ लगते जिलों के कालेज को इससे संबद्धता दिलाई जाएगी। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट भी इस संबंध में हरियाणा के पक्ष में फैसला सुना चुका। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि हाईकोर्ट के निर्देशों की अनुपालना में पंजाब विश्वविद्यालय में हरियाणा की भागीदारी को बहाल कराया जाए। गृह मंत्रालय अधिसूचना जारी कर साथ लगते जिलों के कालेजों को पंजाब विवि से संबद्धता दिलवाए।

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि संबद्ध किए जाने वाले कालेजों में दाखिले के लिए हरियाणा की वर्तमान आरक्षण नीति तथा विश्वविद्यालय कैंपस में संचालित कोर्सों में केंद्रीय आरक्षण नीति लागू की जानी चाहिए। इन कालेजों में पंजाब विवि हरियाणा को अपनी फीस संरचना को लागू करने की अनुमति प्रदान करे। उन्होंने कहा कि पूर्व की भांति पंजाब विवि मेेंं हरियाणा के प्रतिनिधियों को सीनेट, सिंडीकेट, वित्त बोर्ड में स्थान दें और आरक्षण के मुताबिक बराबर की भागीदारी प्रदान की जाए।

हरियाणा की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में चंडीगढ़ का विस्तार ट्राईसिटी के तौर पर हो रहा है। हरियाणा से बड़ी संख्या में छात्र पंजाब विवि कैंपस में विभिन्न एडवांस और प्रोफेशनल कोर्सों में दाखिला लेने के लिए आते हैं। ऐसे में हरियाणा को उसका हक बहाल किया जाए तो छात्रों को बड़ा लाभ मिलेगा और उनकी प्रतिभा को निखारा जा सकेगा।

यह भी पढ़ेंः पंजाब की दो छात्राओंं के गैंग ने मचाई हलचल, खिलाडी़ अक्षय कुमार ने किया यह कमेंट

युवाओं के लिए मजबूत पैरवी : जैन

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन का कहना है कि पंजाब विवि चंडीगढ़ में हरियाणा की भागीदारी रही है। उच्च न्यायालय भी हरियाणा को निर्देश दे चुका है कि वह अपने हक के लिए पंजाब विवि के साथ मिलकर प्रयास करे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के युवाओं के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा है। हरियाणा अपना हक पाने के लिए हर मंच पर मजबूती से युवाओं की पैरवी करेगा।

यह भी पढ़ेंः फोन कर कहा- पत्नी का बहुत खून बह रहा है, दोस्त पहुंचा तो मिली इस हाल में

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप