चंडीगढ़ [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा सरकार के मंत्रियों को अब उन जिलों में रातें बितानी होंगी, जिनके वे प्रभारी मंत्री हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय के हरियाणा दौरे के बाद सरकार ने यह अहम फैसला लिया है। विजयवर्गीय के सामने इन मंत्रियों ने अफसरों द्वारा सुनवाई नहीं किए जाने का मुद्दा उठाया था, जिसे उन्होंने बेहद गंभीरता से लेते हुए मंत्रियों को अपनी वर्किंग में बदलाव लाने तथा अफसरों की खिंचाई करने के निर्देश दिए थे। जिला उपायुक्तों व पुलिस अधीक्षकों को पहले ही सरकार ने हर माह कम से कम एक गांव में रात बिताने के आदेश दिए जा चुके हैं।

हरियाणा सरकार ने लोगों की सुनवाई करने के लिए हर मंत्री को एक-एक जिला सौंपा हुआ है। इन जिलों में मंत्री जाकर ग्रीवेंसिज कमेटियों की बैठक लेते हैैं। मौके पर लोगों की समस्याएं सुनीं जाती हैं और फिर कार्यवाही के आदेश दिए जाते हैं।

उल्लेखनीय है कि कैलाश विजयवर्गीय 14 व 15 मार्च को हरियाणा आए थे, तब उन्होंने भाजपा जिला अध्यक्षों तथा प्रदेश पदाधिकारियों के साथ ही मंत्रियों और विधायकों संग मंत्रणा की थी। कैलाश ने जब मंत्रियों को यह सलाह दी कि वे जिलों में जाकर दिन भर बैठकें करें और शाम को किसी भी रेस्ट हाउस में प्रमुख कार्यकर्ताओं को बुलाकर चर्चा की जाए। इसी बैठक में अधिकारियों खासकर डीसी व एसपी को भी बुलाया जाए। तब कुछ मंत्रियों ने कहा था कि अफसर सुनवाई नहीं करते। वे मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश पर चलते हैैं। इस बात पर कैलाश ने हैरानी जताई थी।

बहरहाल, उन्होंने पूरे सिस्टम की कार्यप्रणाली में बदलाव लाते हुए मंत्रियों से कहा कि वे लोगों के बीच में जाकर कार्यकर्ताओं का भरोसा जीतें। एक मंत्री ने सुझाव दिया था कि जब हम सभी नौकरी मैरिट पर दे रहे हैैं तो कार्यकर्ता को गले लगाकर उसका विश्वास जीतना भी जरूरी है।

अब सभी मंत्री ठीक उसी फार्मूले पर आगे बढ़ेंगे, जो पिछले दिनों तय किया गया है। भाजपा सूत्रों के अनुसार पार्टी ने सभी मंत्रियों के कार्यक्रम नए सिरे से निर्धारित कर दिए हैं। उन्हें हारी हुई सीटें जिताने की जिम्मेदारी पहले से सौंपी जा चुकी है। ऐसे में अब मंत्री जिलों में नए रूप में नजर आ सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली पुलिस की सिपाही से एसआइ झांसा देकर करता रहा दुष्कर्म, गर्भवती हुई तो शादी से 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस