जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा में लगातार बढ़ रहे Coronavirus COVID-19 के मामलोंं को देखते हुए सरकार ने आने वाले दिनों में आयोजित होने वाले त्योहार व अन्य पर्व अपने घरों में ही मनाने के निर्देश दिए हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश वासियों के नाम जारी संदेश में भी कहा कि आने वाले दिनों में किसी भी जलसे-जलूस तथा सार्वजनिक कार्यक्रम का हिस्सा न बनें, जिसके चलते सोमवार को हरियाणा की मुख्य सचिव ने सभी प्रशासकीय सचिवों, मंडल आयुक्तों तथा जिला उपायुक्तों को आदेश जारी किए।

मुख्य सचिव ने जारी आदेश में कहा है कि COVID-19 के चलते प्रदेशभर में 21 दिन का Lockdown है। संक्रमण से बचने के लिए सरकार की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की हिदायत जारी है। खासकर धार्मिक आयोजनों से लेकर सभी त्योहारों पर भीड़ के एकत्रित होने पर रोक है।

अप्रैल माह में आज यानी सात अप्रैल को हनुमान जयंती, 10 अप्रैल को गुड फ्राइडे, 12 अप्रैल को गुरु तेगबहादुर जयंती, 13 अप्रैल को बैसाखी पर्व है और 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की अवधि निर्धारित की गई है। पत्र में कहा गया है कि आने वाले समय में त्योहारों को लेकर हिदायत जारी की है।

मुख्य सचिव की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं कि लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग (शारीरिक दूरी) के बारे में ज्यादा से ज्यादा जागरूक किया जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि आने वाले समयावधि के त्योहारों में किसी प्रकार के सम्मेलन, जलसा-जुलूस व सभा आयोजित न हो। लोग घरों में ही त्योहारों को श्रद्धापूर्वक मनाएं।

बता दें, हरियाणा में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। राज्य में अभी तक कुल 96 लोग महामारी के शिकार हुए हैं। इनमें केवल 15 मरीज ही ठीक हो सके, जबकि तीन की मौत हो गई है। 79 मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में आइसोलेशन में रखा गया है। पलवल में सबसे ज्यादा 26 मरीज हैं। रोहतक, करनाल और अंबाला में एक-एक कोरोना मरीज की मौत हुई है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस