जेेेेएनएन, चंडीगढ़। Haryana Assembly Elections 2019: हरियाणा में अक्टूबर में हुए विधानसभा चुनावों में विधायकों ने पिछली बार की तुलना में ज्यादा दमदार तरीके से एंट्री मारी है। वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में जहां विधायक औसतन 39.84 फीसद वोट लेकर सदन में पहुंचे थे, वहीं इस बार औसतन 43.55 फीसद वोट लिए। हरियाणा इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स (एडीआर) ने सभी 90 निर्वाचन क्षेत्रों में प्रत्याशियों को मिले वोटों का विश्लेषण किया, जिससे कई रोचक तथ्य उजागर हुए हैं।

आपराधिक केस के बावजूद 12 प्रत्याशी बने विधायक

  • 12 विधायकों ने आपराधिक मामले दर्ज होने के बावजूद साफ छवि वाले उम्मीदवारों को धूल चटा दी। इनमें से तीन (25 फीसद) विधायकों ने 50 फीसद या इससे अधिक वोट लिए, जबकि तीन विधायकों की जीत का अंतर 20 फीसद से अधिक रहा।
  • गढ़ी सांपला किलोई से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने 39.25 फीसद वोटों के अंतर से जीत दर्ज की

आपराधिक पृष्ठभूमि के 11 प्रत्याशियों पर भारी पड़े साफ छवि के उम्मीदवार

  • साफ छवि वाले 11 विधायकों ने आपराधिक पृष्ठभूमि को दूसरे नंबर पर धकेल दिया। हालांकि इनमें से केवल दो विधायक ही दस फीसद या इससे अधिक के अंतर से जीत सके

करोड़पतियों का सिक्का, सिर्फ छह विधायक लखपति

  • 84 विधायक करोड़पति हैं। इनमें से 19 (23 फीसद) करोड़पति विधायकों ने 50 फीसद से अधिक वोट लिए
  • कुल 19 (21 फीसद) विधायक 50 फीसद या इससे अधिक वोट लेकर जीते। इसके अलावा 71 (79 फीसद) विधायकों को 50 फीसद से कम वोट मिले हैं

कांटे के मुकाबले में जीते गोपाल कांडा, मोहम्मद इलियास और सुभाष सुधा

तीन विधायक एक हजार से कम वोटों से जीते। हरियाणा लोकहित पार्टी के गोपाल कांडा ने जहां निर्दलीय गोकुल सेतिया को 602 वोटों से हराकर सबसे नजदीकी जीत दर्ज की, वहीं कांग्रेस के मोहम्मद इलियास ने पुन्हाना में निर्दलीय प्रत्याशी रहीश खान को 816 वोटों से हराया। भाजपा के सुभाष सुधा थानेसर सीट पर कांग्रेस के अशोक अरोड़ा को 842 वोटों से हरा कर विधानसभा पहुंचने में सफल रहे। चार विधायकों ने 30 फीसद से अधिक वोटों के अंतर से जीत हासिल की है।

करोड़पतियों की टक्कर

  • विधानसभा पहुंचे 84 करोड़पति उम्मीदवारों में से 82 का मुकाबला करोड़पति प्रतिद्वंद्वियों से था। इनमें केवल दो विधायकों को ही गैर करोड़पति प्रत्याशी टक्कर दे सके। दोनों करोड़पति उम्मीदवारों में से एक विधायक ने 20 फीसद से अधिक वोटों के अंतर से जीत दर्ज की
  • तीन गैर करोड़पति विधायक करोड़पति प्रत्याशियों को हराने में सफल रहे। इनमें से दौ ने दस फीसद से अधिक वोटों से जीत दर्ज की

महिला विधायकों की बड़ी जीत

  • 90 विधायकों में से नौ महिलाएं हैं। सभी महिला विधायकों ने 35 फीसद से अधिक वोटों के साथ जीत हासिल की।
  • महिला विधायकों में तोशाम से कांग्रेस उम्मीदवार किरण चौधरी ने सबसे ज्यादा 49.72 फीसद वोट लिए। उन्होंने प्रतिंद्वद्वी को 12.35 फीसद वोटों के अंतर से हराया

पुनर्निर्वाचित विधायकों का प्रदर्शन

  • पुनर्निर्वाचित 29 विधायकों में से छह विधायकों ने 50 फीसद से अधिक वोट शेयर के साथ जीत दर्ज की है
  • 12 पुनर्निर्वाचित विधायकों ने दस फीसद से कम वोटों के अंतर से जीत दर्ज की, जबकि छह विधायक 20 फीसद से अधिक मतों के अंतर से जीते

नोटा के वोट बढ़े

  • विधानसभा चुनाव में कुल एक करोड़ 25 लाख 20 हजार 177 लोगों ने वोट डाले। इनमें से 65 हजार 672 (0.52 फीसद) ने अपना वोट नोटा (उपरोक्त में से कोई नहीं) को दिया।
  • विधानसभा चुनाव 2014 में एक करोड़ 24 लाख 26 हजार 968 वोटों में से 53 हजार 613 (0.43 फीसद) वोट नोटा को मिले थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस