जागरण संवाददाता, पंचकूला : हरियाणा के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा है कि प्रदेश में नारियों की सुरक्षा के लिए जितना बेहतर किया जा सकता है, किया जाएगा। केंद्र सरकार भी इस दिशा में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रही है। हरियाणा सरकार बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ के जरिए अपना संकल्प दोहरा रही है। वे धर्म और नारी अस्मिता पर आयोजित संगोष्ठी के दूसरे दिन के कार्यक्रम में मौजूद लोगों को संबोधित कर रहे थे।

इस मौके पर झारखंड के सांसद और केंद्रीय राज्य मंत्री सुदर्शन भगत ने कहा कि आज भी नारियों के प्रति कई कुप्रथाएं हैं। लगातार इसे दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। पर संपूर्णानंद ब्रह्चारी द्वारा कराए गए इस आयोजन ने नई राह दिखलाई है। कार्यक्रम में अग्नि अखाड़ा के सचिव संपूर्णानंद ब्रह्मचारी ने कहा कि वैदिक काल से लेकर आधुनिक काल तक जब जब समाज में संकट आया है नारियों ने रक्षा की है। आज नारी अस्मिता पर गोष्ठी के आयोजन का उद्देश्य सिर्फ इतना है कि हम नारियों के सम्मान को उसी दौर में ले जाने का संकल्प लें।

परिवहन मंत्री कृष्ण पंवार ने कहा कि स्वामी संपूर्णानंद द्वारा आयोजित यह मंच इतना बड़ा संदेश देकर जा रहा है, जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की होगी। समाज में बदलाव लाने में धर्म गुरुओं का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता है। मंत्री कविता जैन ने कहा कि समाज में नारी के प्रति जो नकारात्मकता आई है उसे इसी समाज को दूर करना होगा। इसके लिए जागरूकता जारी है। इस संगोष्ठी में आरएसएस के प्रातीय संघ संचालक प्रेम गोयल, हरियाणा सीएम के ओएसडी अमरेंद्र सिंह, रेवाड़ी डीसी अशोक कुमार, परमजीत सिंह अहलावत, योगेंद्र मलिक, उद्योगपति विष्णु गोयल मौजूद रहे।

Posted By: Jagran