मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, चंडीगढ़। रोहतक, फरीदाबाद, हिसार और सिरसा में लोगों को अब खस्ताहाल सड़कों पर वाहनों में हिचकोले नहीं खाने पड़ेंगे। प्रदेश में सड़क तंत्र को मजबूत करने की कड़ी में चारों जिलों की करीब तीन दर्जन सड़कों की मरम्मत के लिए सरकार ने करीब 30 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं।

लोक निर्माण (भवन एवं सड़क) मंत्री राव नरबीर सिंह ने बताया कि  मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। रोहतक में बेरी सड़क पर 3.85 करोड़ और पुराने राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर दस (शहरी भाग) पर 2.86 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा रोहतक में 15 अन्य सड़कों की मरम्मत के लिए 4.80 करोड़ रुपये की प्रशासकीय स्वीकृति मिली है।

जिन सड़कों की मरम्मत की जानी है, उनमें इस्माइला से बालाजी मंदिर,  कलानौर से कटेसरा, घिलौड़ खुर्द पहुंच मार्ग, पिलाना-रानीला रोड, पाकस्मा से गांधरा, मुरादपुर टेकना स्कूल पहुंच मार्ग और गद्दी खेड़ी से डोभ तक का मार्ग शामिल है। इसी तरह आसन से बखेता, किलोई से रिठाल, रोहतक -भिवानी रोड, सांपला में ओल्ड डीएचएस रोड, सुखपुरा से लाढौत, भालौठ से किलोई, लाढौत से शिव मंदिर और सांघी बस स्टैंड से छाजूवाला पुल तक सड़क की मरम्मत कराई जाएगी।

राव नरबीर सिंह ने बताया कि सिरसा में 13 सड़कों की मरम्मत कराई जाएगी। इनमें खैरकां से ढाणी, डीएचएस रोड से अहमदपुर रोड और जंडवाला जाटान, टप्पी पिपली नौरंगपुर रोड, ओढां से घोकनवाली, चोरमार से चुकेरियां, नेजाडेला से किराकोट रोड और सुबाखेड़ा से सुखचैन तक सड़क की मरम्मत शामिल है।

इसके अलावा बड़ागुढा से रोडी रोड, डबवाली-कालांवाली वाया देसूजोधा रोड, पंजुआना से दुधियां, पन्नीवाला मोटा से बिज्जूवाली और सिरसा-ओटू-रानियां-जीवननगर-डबवाली रोड से केलनिया तक सड़क की मरम्मत कराई जाएगी। फरीदाबाद में बल्लभगढ़-समयपुर-सरमाथला सड़क की मरम्मत होगी। हिसार में हांसी-महजद-मसूदपुर-डाटा-बयाणा खेड़ा-ज्ञानपुरा रोड (जींद-बरवाला रोड तक) को चौड़ा करने पर ढाई करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

अगले साल तक खत्म होंगे मानव रहित रेल फाटक

हरियाणा में अगले साल तक कोई मानवरहित रेलवे फाटक नहीं रहेगा। रेलवे के साथ मिलकर सभी 167 मानवरहित फाटकों को समाप्त करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। पीडब्लयूडी मंत्री राव नरबीर ने कहा कि हादसों को खत्म करने के लिए मानवरहित फाटकों की जगह रेलवे ओवर तथा अंडरब्रिज बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोसली में नए विश्राम गृह बनाने के प्रस्ताव को भी मुख्यमंत्री ने स्वीकृति दे दी है। इसके लिए ग्राम पंचायत कोसली ने डेढ़ एकड़ जमीन कलेक्टर रेट पर उपलब्ध कराने की पेशकश की है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप