चंडीगढ,जेएनएन। हरियाणा सरकार ने राज्‍य के कंप्‍यूटर शिक्षकों और लैब सहायकों को बड़ी खुशखबरी दी है। राज्‍य सरकार ने कंप्‍यूटर शिक्षकों और लैब सहायकाें के मानदेय में वृद्धि कर दी है। हरियाणा में आठ साल से पक्की नौकरी के लिए संघर्ष कर रहे कंप्यूटर शिक्षकों और लैब सहायकों को राहत देते हुए प्रदेश सरकार ने उनके मानेदय में तीन हजार रुपये प्रति माह की बढ़ोतरी की है।

मानदेय में वृद्धि से राज्‍य में कंप्यूटर शिक्षकों को अब प्र‍ति माह 15 हजार रुपये की बजाय 18 हजार रुपये मिलेंगे। इसके साथ ही राज्‍य के लैब सहायकों को नौ हजार रुपये की जगह हर महीने 12 हजार रुपये मानदेय मिलेगा। फैसले से करीब 4500 कंप्यूटर शिक्षकों और लैब सहायकों को लाभ होगा।

पहली अप्रैल से कंप्यूटर शिक्षकों को 18 हजार और लैब सहायकों को 12 हजार रुपये मानदेय मिलेगा

स्कूल शिक्षा निदेशक ने पहली अप्रैल से बढ़े मानदेय का लाभ देने के लिए लिखित आदेश जारी किए हैं। हालांकि इन कर्मचारियों का अनुबंध 31 मई को समाप्त हो चुका है जिसे अभी तक बढ़ाया नहीं गया है। उम्मीद है कि हर साल की तरह इस बार भी स्कूल खुलते ही अनुबंध बढ़ा दिया जाएगा। कंप्यूटर टीचर्स वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष बलराम धीमान और सचिव सुनील वर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार हर साल जून का मानदेय नहीं देती। इसके चलते अनुबंध को जुलाई में ही बढ़ाया जाता है।

31 मई को खत्म हो चुका अनुबंध, हर साल की तरह जुलाई में अनुबंध बढ़ाने की तैयारी

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिसंबर 2017 में कंप्यूटर शिक्षकों का मानदेय बढ़ाकर 21 हजार 715 रुपये करने और लैब सहायकों के लिए 11 हजार 500 रुपये के मानदेय की घोषणा की थी, लेकिन इसे अभी तक अमलीजामा नहीं पहनाया गया है। उन्होंने मांग की कि गर्मी और सर्दियों की छुट्टियों का मानदेय न काटकर सीधे 12 महीने के लिए अनुबंध बढ़ाया जाए।

 

Edited By: Sunil Kumar Jha