जेएनएन, चंडीगढ़। वर्ष 2014 के विधानसभा चुनावों में सोनीपत के राई हलके से मात्र तीन वोट से जीते कांग्रेस विधायक जयतीर्थ दहिया के चुनाव से जुड़ा रिकॉर्ड वीरवार को हाई कोर्ट में पेश किया गया। चुनाव से जुड़ी कुछ बूथों की EVM व रिकॉर्ड रजिस्ट्रार को सौंपा गया है। हाई कोर्ट ने EVM विशेषज्ञ रवि रंजन व रजिस्ट्रार को इस रिकार्ड की जांच व डिकोड कर सोमवार को सील बंद रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।

उल्लेखनीय है कि अक्टूबर 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में राई हलके से कांग्रेस प्रत्याशी जयतीर्थ दहिया को 36,403 वोट मिले, जबकि इनेलो प्रत्याशी इंद्रजीत दहिया को 36,400 वोट मिले थे। सिर्फ तीन वोट से हारने वाले इंद्रजीत ने इसे पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में चुनौती दी। इस पर हाई कोर्ट ने कुछ बूथों की EVM सील करने के निर्देश दिए थे। कोर्ट ने गत 15 मई को EVM जमा कराने के निर्देश दिए थे, लेकिन चुनावी व्यस्तता के कारण EVM जमा नहीं हो पाई थी।

बढ़ख़ालसा के बूथ नंबर 83 व कुंडली के बूथ नंबर-131 के पोलिंग ऑफिसर्स ने हाई कोर्ट में रिकॉर्ड पेश किया था। आरोप है कि इसमें दीपचंद व किताब कौर का कुंडली व बढख़ालसा दोनों जगह वोट मिला। दोनों जगह वोट भी डाला गया। अब दीपचंद की मौत हो चुकी है, इसलिए EVM के डिकोड के बाद ही कोर्ट निर्णय पर पहुंच सकेगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप