जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा के सभी जिलों में जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी (DPRO) रोजाना सूचना उपलब्ध कराएंगे कि कोरोना से पीड़ित कितने लोग ठीक हुए और कितने संक्रमित हैं। फल- सब्जियों, करियाना या भोजन व्यवस्था की रूपरेखा का डेली प्लान भी समाचार पत्रों को दिया जाएगा, ताकि इसे जनता तक पहुंचाया जा सके।

सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग के निदेशक पीसी मीणा ने इस संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि महामारी के चलते विभाग के कंधों पर लोगों तक सही सूचना पहुंचाने के साथ-साथ सरकार व स्थानीय प्रशासन द्वारा किए जा रहे राहत कार्यों की सटीक व समय पर जानकारी देने की भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये सभी जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारियों को मीणा ने निर्देश दिए कि कोई भी DPRO अपना मुख्यालय न छोड़ें।

सूचना एवं जनसंपर्क निदेशक ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा फल, सब्जियों, खाद्य पदार्थों और दवाओं जैसी आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। इनकी जानकारी लोगों तक पहुंचाना बेहद जरूरी है। सूचना के प्रचार-प्रसार के लिए सोशल मीडिया और केबल का अधिकतम इस्तेमाल किया जाए। हर महत्वपूर्ण जानकारी जिले में विभाग के हर अधिकारी को भेजी जाए ताकि विभिन्न ग्रुप के माध्यम से यह जानकारी तुरंत आम लोगों तक पहुंच जाए।

पीसी मीणा ने कहा कि जिलों में जिन वाहनों से मुनादी करवाई जा रही है, उन वाहनों द्वारा कवर किए जाने वाले शहर, गांवों व कस्बों की सूचना प्रतिदिन मुख्यालय भिजवाई जाए। सभी जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी अपने कार्यालय में जरूरत के हिसाब से कर्मचारियों की हाजिरी सुनिश्चित करें।

कोरोना से लड़ने को हर जिले में रेडक्रास के 200 वालियंटर्स

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को राज्य में कोरोना से बचाव के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे इंतजामों की जानकारी दी। राज्यपाल ने राष्ट्रपति को बताया कि हरियाणा सरकार के साथ रेडक्रास के स्वयं सेवक कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग कर रहे हैं। प्रत्येक जिले में कम से कम दो सौ स्वयं सेवकों की एक टीम तैयार की गई है, जो जिला प्रशासन का जरूरत के हिसाब से सहयोग कर रही है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को राज्यपालों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग पर बातचीत कर रहे थे। हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने राष्ट्रपति को बताया कि हरियाणा इस आपदा से निबटने के लिए पूरी तरह तैयार है। प्रदेश में अब तक 3206 आइसोलेशन बेड तैयार किए गए हैं और 13 हजार लोगों को कोरंटाइन करने की सुविधा उपलब्ध है। राज्य में अभी तक 19 लोग कोरोना बीमारी से पीड़ित पाए गए हैं, जिनका निःशुल्क ईलाज किया जा रहा है। प्रदेश में 11 हजार लोगों को सर्विलांस (निगरानी) में रखा गया है।

राज्यपाल ने राष्ट्रपति को बताया कि हरियाणा रेडक्रास सोसायटी द्वारा प्रत्येक जिले में मास्क, हेंड सेनीटाइजर और दवाइयों का वितरण किया जा रहा है। गरीब मरीजों को अस्पताल तक लाने के लिए निःशुल्क एंबुलेंस सेवा उपलब्ध है। इसके साथ-साथ रेडक्रास के स्वंय सेवक सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से प्रतिदिन 12 हजार गरीब, बेघर, बेसहारा, मजदूरों व अन्य जरूरतमंदों तक सूखा राशन एवं पैक्ड खाना पंहुचा रहे हैं। इसके अलावा प्रत्येक जिले में 200 स्वंय सेवकों की टीमें भी बनाई गई हैं जो हर कार्य में प्रशासन का सहयोग कर रही हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस