नई दिल्ली, जेएनएन। हरियाणा में कोरोना के खिलाफ जंग में अपना योगदान दें और बहुत अधिक जरूरी होने के सिवा अपने घर से बाहर न निकलें। हरियाणा सरकार लॉक डाउन के दौरान जरूरत की हर चीज लोगों को उनके घर पर ही मुहैया कराएगी। इसके लिए सरकार की तरफ से घरों में खाद्य सामग्री की आपूर्ति करने वाले स्वयंसेवकों सहित दुकानदारों का भी पंजीकरण किया जाएगा। स्वयं सेवकों को हरियाणा सरकार ने कोविड-19 संघर्ष सेनानी का नाम दिया है।

घरों में खाद्य सामग्री की आपूर्ति श्रृंखला बनाने को स्वयंसेवकों का होगा पंजीकरण

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंजीकरण के लिए बृहस्पतिवार चंडीगढ़ में covidssharyana.in वेबसाइट जारी की। इसमें किराना, दूध, दवा विक्रेता और कोविड-19 संघर्ष सेनानी अलग-अलग पंजीकरण करा सकेंगे। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि घरों में राशन व अन्य जरूरी सामान पहुंचाने वाले कार्यकर्ताओं से पुलिस प्रशासन पूछताछ कर सकती है। हां, यदि उसके पास ई-पास और आधार कार्ड होगा तो उसे कोई परेशानी नहीं आएगी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जारी स्वयंसेवकों और दुकानदारों के लिए पंजीकरण वेबसाइट

दुकानदार और संघर्ष सेनानियों का पंजीकरण अलग-अलग इसलिए कराया जा रहा है कि लोग वेबसाइट पर अपने नजदीक के दुकानदार और वहां से सामान लाकर देने वाले कोविड-19 संघर्ष सेनानी के बारे में पता कर सकें। लोग जहां भी फोन करेंगे, वहां से उन्हें सामान मिल जाएगा।

------------------

हरियाणा कोरोना राहत कोष में सहयोग देने की अपील

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बृहस्पतिवार लोगों से आग्रह किया कि वे हरियाणा कोरोना राहत कोष में भी सहयोग करें। इसके लिए उन्होंने बताया कि लोग स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की पंचकूला शाखा में खुले इस राहत कोष के खाता नंबर 39234755902, आईएफएस कोड- SBIN0001509 में सहयोग राशि ऑनलाइन भेज सकते हैं। अब तक इसमें पांच करोड़ रुपये की सहयोग राशि आ चुकी है।

----------------

'' लॉक डाउन के दौरान प्रदेश के किसी भी व्यक्ति को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए राज्य सरकार सार्थक प्रयास करने में जुटी है। मेरा सभी प्रदेशवासियों से आग्रह है कि वे इस घड़ी में अपने सहित अपने समाज में बचाव के लिए प्रयास करें। सोशल डिस्टेंस के नियम को पूरी तरह लागू रखे। लोग खानपान में भी सावधानी बरतें और सिर्फ जीने के लिए खाना खाएं।

                                                                                                  - मनोहर लाल, मुख्यमंत्री, हरियाणा।

------------------

अब हुए इतने पंजीकरण

-कुल पंजीकरण- 33 हजार स्वयंसेवक

-डॉक्टर-546

-नर्स 225

-पैरामेडिकल स्टाफ-1108

-घरों में आपूर्ति करने वाले स्वयंसेवक- 4700

-समाज जागरूकता कार्यकर्ता-5700

-जिला प्रशासन के सहयोगी कार्यकर्ता-6200

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें: कोरोना के बचाव के लिए संतुलित आहार लेना जरूरी, अपनाएं भोजन में 2 फीसद का नियम

 


यह भी पढ़ें: कोरोनो पर सरकार का बड़ा फैसला, रिटायर होनेवाले चिकित्सक व पैरा मेडिकल स्‍टाफ को extension


यह भी पढें: सावधान: Lock Down में घर से बाहर निकलना पड़ेगा बहुत भारी, हो सकती है छह महीने की जेल


Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस