जेएनएन, चंडीगढ़। राफेल विमान सौदे में धांधली का आरोप लगाते हुए कांग्रेस इसकी जांच की मांग के लिए आंदोलन की तैयारी कर रही है। कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने चंडीगढ़ में बताया कि पार्टी हाईकमान के निर्देश के बाद आंदोलन के लिए 7 सितंबर से शुरू हो रहे विधानसभा के मानसून सत्र से पहले पार्टी विधायकों की बैठक में रणनीति तैयार की जाएगी।

किरण चौधरी के अनुसार पार्टी हाईकमान ने 25 अगस्त से 7 सितंबर कर पोल खोल अभियान चलाने के निर्देश दिए हैैं, जिसके तहत प्रेस वार्ताएं होंगी। 8 से 15 सितंबर तक हर जिले में प्रदर्शन किए जाएंगे, जिनमें प्रधानमंत्री के खिलाफ राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजे जाएंगे। 16 से 30 सितंबर तक राज्य मुख्यालयों पर प्रदर्शन होंगे और पार्टी नेता राज्यपाल से मुलाकात कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेंगे।

किरण चौधरी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि हरियाणा कांग्रेस के समस्त विधायक और प्रमुख कार्यकर्ता मिलकर घोटाले को बेनकाब करेंगे। यह पार्टी का संयुक्त कार्यक्रम होगा। उन्होंने बताया कि राफेल विमान सौदे में 36 लड़ाकू विमानों की खरीद शामिल है। एक जहाज की कीमत 526 करोड़ है, जबकि सौदा 1571 करोड़ के हिसाब से हुआ है। मोदी सरकार इसे सार्वजनिक करने से बच रही है।

केरल के लिए एकत्रित राशि के चेक खुद लेकर जाएंगी दिल्ली : किरण

वहीं, कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा समेत पार्टी के सभी 17 विधायक अपना एक-एक माह का वेतन केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए देंगे। किरण चौधरी ने बताया कि हरियाणा से इकट्ठा होने वाली इस राशि के चेक हाईकमान को सौंपने वह खुद दिल्ली जाएंगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt