चंडीगढ़, जेएनएन/एएनआइ। हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने कोरोना के खिलाफ जंग में नया नारा दिया है। यह नारा है- हरियाणा से हारेगा, भारत से भागेगा कोरोना। हरियाणा सरकार राज्‍य की ढ़ाई करोड़ आबादी को कोरोना वायरस से बचाव को लेकर बेहद सजग है। प्रदेश सरकार ने किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने की तैयारी की है, वहीं लोगों से भी घरों में रहकर इस महामारी का मुकाबला करने का सहयोग मांगा है। 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जनता से मांगा कोरोना के विरुद्ध जंग में सहयोग

मुख्यमंत्री मनोहर लालने प्रदेश की जनता से रूबरू होते हुए कहा कि लोग संयम बरतें, क्योंकि उनके सहयोग के बूते ही किसी भी विपरीत स्थिति को संभाला जा सकता है तथा सरकार इसमें सक्षम है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बृहस्पतिवार को नारा दिया कि कोरोना हरियाणा से हारेगा और भारत से भागेगा। उन्होंने कहा कि लाकडाउन ही समस्या का समाधान है।

कहा- लाॅक डाउन और घरों में रहना ही कोराेना का हल, नहीं माननेवालों से सख्‍ती होगी हमारी मजबूरी

उन्‍होंने कहा कि काफी लोग घरों में रहकर सहयोग कर रहे हैं और कुछ लोगों को अभी यह बात समझ में नहीं आ रही है। पुलिस ऐसे लोगों को समझा रही है। यदि उन्हें समझ नहीं आएगा तो सरकार द्वारा सख्ती करना हमारी मजबूरी हो जाएगी। मुख्यमंत्री ने माना कि भविष्य में यदि लोगों ने सहयोग नहीं किया तो कोरोना के केस बढ़ सकते हैं और सरकार पर दबाव आ सकता है, जिसका निपटारा आम लोग अपने सहयोग के जरिये ही कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि एलडी (लाकडाउन) से एसडी (सोशल डिस्टेंस) के फार्मूले पर काम करना होगा। 

मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस से पीड़ित और प्रभावित लोगों के इलाज में लगे डाक्टरों, नर्सों तथा कर्मचारियों की मेहनत को सेल्यूट किया है। उन्होंने कहा कि संक्रमित लोगों का इलाज करते हुए यदि किसी डाक्टर के साथ कोई अनहोनी होती है तो सरकार उनके परिवार के साथ खड़ी रहेगी।

यह भी पढ़ें: मनोहरलाल का ऐलान- कोरोना से जंग में जुटे डॉक्‍टरों व कर्मियों के हादसे पर मिलेंगे 20 से 50 लाख

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अनुसार राज्य में आइसोलेशन के लिए 2500 बेड और कोरंटाइन के लिए 6500 बेड की व्यवस्था की गई है। उन्होंने लाेगों से कहा कि अपनी और पूरे परिवार की सुरक्षा आपके खुद के हाथ में है। हो सकता है कि घर में सामान खत्म हो जाए, लेकिन जीने के लिए कम खाया जा सकता है, मगर खाने के लिए सड़कों पर निकलकर खुद को मौत के मुंह में फंसा देना उचित नहीं है। सरकार लोगों तक राशन पहुंचाने की चिंता और व्यवस्था दोनों कर रही है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: Lock down का असर: हरियाणा की पहली मरीज COVID-19 से मुक्‍त, कोई नया केस नहीं आया सामने


यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग के बीच अच्‍छी खबर, पंजाब के पहले COVID-19 मरीज ने महामारी को दी मात

 

यह भी पढ़ें: कोरोना के बचाव के लिए संतुलित आहार लेना जरूरी, अपनाएं भोजन में 2 फीसद का नियम

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस