राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। Haryana Municipal Polls: कांग्रेस फरीदाबाद और गुरुग्राम नगर निगम चुनाव सिंबल पर लड़ेगी। इसके संकेत पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दिल्ली में मीडिया से बातचीत में दिए। हुड्डा ने कहा कि नगर निगम के चुनाव तो कांग्रेस सिंबल पर ही लड़ती है।

कांग्रेस ने हरियाणा में 46 स्‍थानीय निकायों का चुनाव नहीं लड़ा था

बता दें, 46 स्थानीय निकायों के चुनाव कांग्रेस ने सिंबल पर नहीं लड़े थे, क्योंकि कांग्रेस की तब तक नीचे की इकाई तैयार नहीं थी। इसके बाद यह आकलन किया गया कि कांग्रेस ने हार के डर से सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ा क्योंकि भाजपा और जजपा ने मिलकर 30 से अधिक निकायों पर जीत का परचम लहराया था। 

सिंबल पर चुनाव लड़ने संबंधी पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के संकेत फरीदाबाद और गुरुग्राम नगर निगम क्षेत्र के लिए काफी अहम हैं। अब तक माना जा रहा है कि सरकार सितंबर के अंत में या फिर अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में इन दोनों बड़े शहरों में छोटी सरकार के चुनाव कराएगी।

मानेसर नगर निगम के भी चुनाव होने थे मगर फिलहाल इन्हें टालने के संकेत मिल रहे हैं क्योंकि इसकी वार्डबंदी भी पूरी नहीं हुई है। हुड्डा ने कहा कि आम आदमी पार्टी का हरियाणा में कोई वजूद नहीं है। उनका कहना है कि भाजपा को निकाय चुनाव में 26 फीसद वोट ही मिले। 74 फीसद वोट विपक्ष को मिले। इसके अलावा आम आदमी पार्टी तो सिर्फ 10 फीसद वोट ही मिले। 

नगर निगम चुनाव में भाजपा के प्रभारियों ने डाला डेरा

भाजपा ने चुनाव के लिए तीनों नगर निगम के प्रभारी नियुक्त कर दिए थे। मानेसर में पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, गुरुग्राम में शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डा. कमल गुप्ता और फरीदाबाद में करनाल के सांसद संजय भाटिया को प्रभारी बनाया गया था। डा. कमल गुप्ता और संजय भाटिया ने तो गुरुग्राम-फरीदाबाद में अपना काम शुरू भी कर दिया है। कमल गुप्ता ने पिछले एक सप्ताह में गुरुग्राम के दो दौर कर लिए हैं।

संजय भाटिया ने मंगलवार को फरीदाबाद में भाजपा की जिला टीम से चुनाव की तैयारियों के लिए चर्चा की है। मंगलवार पूरे दिन लगकर संजय भाटिया ने अपने संगठनात्मक कौशल के अनुरूप जिला टीम को सक्रिय भी कर दिया है। इस बीच कांग्रेस के सिंंबल पर चुनाव लड़ने के संकेत आने से भाजपा और जजपा के बीच यह भी फैसला होना है कि दोनों निकाय चुनाव की तरह गठबंधन में लड़ेंगे या फिर अकेले। आम आदमी पार्टी भी इन दोनों शहरों में चुनाव पूरे दमखम से लड़ेगी। हालांकि अभी के हालात में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच ही हाेने की संभावना है।

हुड्डा ने कहा, कानून व्यवस्था खराब होने से थम गया हरियाणा का विकास

पूर्व सीएम हुड्डा का कहना है कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति इतनी खराब हो गई है कि विकास थम गया है। कांग्रेस के दो और एक भाजपा के विधायक को धमकी मिली है। लूट, हत्या, रंगदारी के मामले बढ़ रहे हैं।

Edited By: Sunil Kumar Jha