जेएनएन, चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी हरियाणा में मिशन 2019 के लिए पूरी तरह तैयार है। हरियाणा में अपने शासन के चार साल पूरे होने पर वह 28 अक्टूबर को करनाल में प्रदेश स्तरीय रैली करेगी। इसके माध्‍यम से वह राज्‍य में चुनावी बिगुल फूंकेगी। इसके साथ-साथ सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं पर राज्‍यभर में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। संगठनात्मक मजबूती के लिए शक्ति केंद्र तथा बूथ स्तर पर प्रभावी तरीके से भाजपा मैदान में उतरेगी।

हरियाणा में चार साल शासन की उपलब्धियों पर होंगे कार्यक्रम, 13-14 सितंबर को प्रदेश कार्यकारिणी बैठक

बुधवार को सरकार और संगठन मोरनी की पहाड़ियों में वन विभाग के गेस्ट हाऊस में भाजपा सरकार और पार्टी नेतृत्व ने चिंतन शि‍विर आयोजित किया गया। इसमें हरियाणा सरकार की उपलब्धियों और भविष्य की तैयारियों पर चिंतन हुआ। प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा जनकल्याण के लिए उठाए गए कदम और पारदर्शी शासन की बदौलत हुए बदलाव पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, मंत्री, बोर्ड-निगम चेयरमैन, भाजपा वरिष्ठ पदाधिकरियों ने मंथन किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अगले साल होनेवाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों की तैयारियों के लिए पूरी तरह तैयार होने का आह्वान किया।

शक्ति केंद्र, बूथ स्तर के कार्यक्रम की तैयारी में जुटी भाजपा

मुख्‍यमंत्री ने मंत्री से लेकर बूथ के कार्यकर्ता तक को चुनाव की दृष्टि से व्यवस्था संभालने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्‍होंने पार्टी के सभी पदाधिकारियों के एक टीम के तौर पर काम करने पर जोर दिया। इसी प्रकार भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि मंत्री और बोर्ड व निगमों चेयरमैन अपनी राजनीतिक गतिविधियां बढ़ाएं। वे पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताआें के साथ सरकार की योजनाओं को आम जन के बीच प्रभावी तरीके से लेकर जाएं। उन्‍होंने बूथ स्तर तक होनेवाले आयोजनों में वरिष्ठ पदाधिकारियों को अहम भूमिका निभाने को कहा।

मोरनी में चिंतन शिविर में चर्चा करते सीएम मनोहरलाल व भाजपा नेता।

अगले चार महीने का खाका बुना, प्रदेश से बूथ पर जमी नजर

भाजपा हरियाणा में पिछले चुनाव की तरह जीत का क्रम बरकरार रखने के लिए अगले चार महीने तक आमजन को बदलाव का अहसास कराया जाएगा। इसके साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं में भी जोश भरा जाएगा। इस दौरान संगठनात्मक और सरकार के स्तर पर लगातार आयोजन होंगे। चिंतन शिविेर में तय किया गया कि 13 और 14 सितंबर को रोहतक में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक का आयोजन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: फिल्‍म सरीखी है इस रिक्शा चालक की कहानी, पढ़ें झुग्‍गी से प्रिंसिपल बनने की अनोखी दास्‍तां

चिंतन शिविर में यह भी फैसला किया गया कि 16 सितंबर को पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की कालजयी कविताओं पर अलग-अलग स्थानों काव्यांजलि पाठ आयोजित किए जाएंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिन 25 सितंबर तक कार्यान्जली सेवा सप्ताह आयोजित किया जाएगा। इसके तहत स्‍वास्थ्य जांच शिविर, पौधरोपण आदि आयोजनों के साथ आयुष्मान भारत अभियान के बारे में भी आमजन को जागरूक किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: दिन में संभालते हैं चेयरमैन की कुर्सी, शाम होते ही जुट जाते हैं वाहन रिपेयर में

चिंतन शिविर में फैसला किया गया कि मनोहरलाल सरकार के चार साल पूरे होने पर अलग-अलग स्थानों पर उपलब्धियों को आमजन तक पहुंचाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 28 अक्टूबर को करनाल में प्रदेश स्तरीय रैली के साथ चुनावी बिगुल फूंका जाएगा। जिला स्तर पर महिला सम्मेलनों का आयोजन कर महिलाओं से जुड़ी योजनाओं पर चर्चा होगी।

इसके साथ ही अक्टूबर में शक्ति केंद्र स्तर पर सम्मेलन तथा नवंबर में बूथ स्तर पर सम्मेलन पूरे प्रदेश में आयोजित किए जाएंगे। इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन 25 दिसंबर को सुशासन दिवस मनाया जाएगा। इस अवसर पर बूथ स्‍तर पर पंजीकृत कार्यकर्ताओं का महाकुंभ आयोजित किया जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha