नई दिल्ली, [बिजेंद्र बंसल]। कोरोना के कहर के दौरान लॉक डाउन का पालन करना बेहद जरूरी है, इसके साथ ही इस महामारी से बचाव के लिए आहार का भी बहुत महत्‍व है। कोरोना से बचने के लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यून) रखना और उसे बढ़ाना भी आवश्‍यक है। वायरस के संक्रमण से बचने के लिए Lock down का पूरी तरह से पालन करने के साथ ही संतुलित आहार लेना जरूरी है।

न्यूट्रिशनिस्ट डॉ.बिस्वरूप राय की सलाह- भोजन में फल, सब्जियों और सलाद की मात्रा बढ़ाएं, खाली पेट लें

प्रसिद्ध मेडिकल न्यूट्रिनिस्ट डॉ. बिस्वरूप राय कहते हैं कि घर के अंदर रहकर सोशल डिस्टेंस सिर्फ वायरस संक्रमित व्यक्ति से दूर रखता है मगर शरीर की रोग प्रतिरक्षण क्षमता को नहीं बढ़ाता। शरीर में रोग प्रतिरक्षण क्षमता बढ़ाने को नियमित आहार में फल और सब्जी (सलाद) की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए। डॉ.बिस्वरूप राय ने  विशेष बातचीत में बताया कि इसके लिए भोजन के 2 फीसद नियम को अपनाएं। उन्‍का कहना है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सुबह खाली पेट ताजे फल और हरी सब्जियों का सलाद जरूर लेना चाहिए।

यह है नियम 2 फीसद

- अपने कुल वजन का महज दो फीसद ताजा फल और सब्जी खाली पेट सेवन करें। उदाहरण के तौर पर एक व्‍यक्ति (स्त्री या पुरुष) का वजन 70 किलोग्राम है। इस व्‍यक्ति को प्रतिदिन 1400 ग्राम ताजा फल-सब्जी का सेवन करना है। इसमें 700 ग्राम फल और 700 ग्राम सब्जी हों। इससे जरूरत के अनुसार विटामिन सी भी शरीर में चला जाएगा जो किसी भी वायरस से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है।

न्यूट्रिनिस्ट डॉ.बिस्वरूप राय।

अपनाएं ऐसा आहार प्‍लान

-  खाली पेट सुबह नाश्ते से पहले, दोपहर और रात्रि के समय भोजन से पहले होता है। इसलिए 1400 ग्राम फल-सब्जी का सेवन नाश्ते, दोपहर या रात्रि के भोजन से पहले ही करना चाहिए।

-1400 ग्राम फल-सब्जी का सेवन दिन में दो या तीन बार किया जा सकता है। फल-सब्जी लेने के बाद व्यक्ति अपना नियमित भोजन जैसा पहले लेता है, वैसा ही ले। इसमें किसी तरह की कटौती भी बेशक न करें।

फलों में कोई भी मौसम के अनुसार मिलने वाले हों और सब्जियों में टमाटर, खीरा,मूली,गाजर या कच्चा पालक हो।

अपनाएं ये परहेज

-भोजन में दो चीजों का परहेज करना है। एक तो पशुओं से निकला कोई भी आहार जैसे अंडा, मांस, मछली और फैक्टरी में बनी चीजें जैसे ब्रेड, बिस्कुट, नमकीन, डिब्बा बंद जूस ग्रहण नहीं करें। 

आहा प्‍लान के फायदे

- तीन माह तक लगातार फल-सब्जी का सेवन करने पर शरीर में नए रक्त का संचार होने लगता है।

-रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) और मधुमेह (शुगर) की बीमारी से छुटकारा मिलने लगता है।

-मोटे व्यक्ति का वजन कम होने लगता है।

-वायरस संक्रमण से बचाव की क्षमता शतप्रतिशत बढ़ती है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 


यह भी पढ़ें: कोरोनो पर सरकार का बड़ा फैसला, रिटायर होनेवाले चिकित्सक व पैरा मेडिकल स्‍टाफ को extension


यह भी पढें: सावधान: Lock Down में घर से बाहर निकलना पड़ेगा बहुत भारी, हो सकती है छह महीने की जेल



यह भी पढ़ें: कर्फ्यू व Lock down तोड़ने वाले इटली से लें सबक, वहां रह रहे पंजाबियों ने किया डरावने हालात का खुलासा

 

यह भी पढ़ें: Corona से जंग में अच्‍छी खबर, COVID-19 वायरस को खत्‍म करेगी CSIO की खास मशीन



यह भी पढ़ें: शताब्दी एक्‍सप्रेस में Corona मरीज संग सफर करने वाले 39 यात्री क्‍वारंटाइन, दाे नहीं मिले


 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस