चंडीगढ़, जेएनएन। जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद डा. अजय सिंह चौटाला हरियाणा में पार्टी का कुनबा बढ़ाने के अभियान में जुट गए हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी मिलने के बाद अजय चौटाला प्रदेश के दौरे पर हैं। वह जजपा में पुराने और पूर्व उपप्रधानमंत्री ताऊ देवीलाल की नीतियों काे मानने वाले नेताओं को पार्टी में शामिल करा रहे हैं इसके साथ ही वह युवा नेताओं को भी पार्टी में ला रहे हैं।

ताऊ देवीलाल की नीतियों मानने वालों को पार्टी में करा रहे शामिल, दिग्विजय ने युवाओं में संभाला मोर्चा

इस दौरान प्रदेश में कई मौकों पर दोनों भाइयों अजय सिंह चौटाला और अभय सिंह चौटाला ने वाकयुद्ध चला। अभय चौटाला ने जहां बड़े भाई को विश्वासघाती करार दिया है, वहीं अजय चौटाला ने कहा कि 20 से एक विधायक पर आ चुकी पार्टी (इनेलो) के नेता भी कहते हैं कि बरोदा हलके के बाद सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। डा. अजय सिंह चौटाला को हाल ही में जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला सरकार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ कर रहे जुगलबंदी

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला सरकार में विभिन्न मुद्दों पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं। मुख्यमंत्री जितने दिन मेदांता में उपचाराधीन रहे दुष्यंत ने मोर्चा संभाले रखा। हालांकि सारा कामकाज मुख्यमंत्री अस्पताल से ही देख रहे थे, लेकिन डिप्टी सीएम भी मुख्यमंत्री को पूरा अपडेट देते रहे। प्रदेश में हुए किसान आंदोलन के दौरान दुष्यंत चौटाला ने उनके बीच जाकर इसे कांग्रेस प्रेरित बताया और दावा किया कि तीनों कृषि अध्यादेशों में किसानों के विरुद्ध कुछ भी नहीं है। यह सारा प्रोपगेंडा कांग्रेस रच रही है, जिसमें किसानों को उलझने की जरूरत नहीं है।

जजपा अध्यक्ष अजय चौटाला के साथ उनके छोटे बेटे इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला भी फील्ड में सक्रिय हैं। वह युवाओं और छात्रों को संगठन के साथ जोड़ने की मुहिम चला रहे हैं। पिता पुत्रों ने बुधवार को चंडीगढ़ में दूसरे दलों के कई नेताओं व कार्यकर्ताओं को जजपा में शामिल कराया। अजय चौटाला ने कहा कि ताऊ देवीलाल की नीतियों में यकीन रखने वाले हर व्यक्ति का पार्टी में स्वागत है। दिग्विजय चौटाला का कहना है कि किसी भी युवा के साथ प्रदेश में अन्याय नहीं होने दिया जाएगा और उनकी रोजगार व शिक्षा की लड़ाई को पूरी मजबूती के साथ लड़ा जाएगा।

कांग्रेस ओबीसी विभाग के राष्ट्रीय संयोजक अब जजपा में

बुधवार को चंडीगढ़ स्थित जजपा कार्यालय में राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला की मौजूदगी में प्रदेश के विभिन्न जिलों के पार्टी नेताओं ने जजपा में शामिल होने की घोषणा की। जजपा में गुरुग्राम, रेवाड़ी व महेंद्रगढ़ जिले के कई नेता शामिल हुए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं वर्ष 2009 में नांगल चौधरी से निर्दलीय उम्मीदवार रह चुके अभिमन्यु राव जजपा में शामिल हुए। अभिमन्यु ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी में ओबीसी विभाग के राष्ट्रीय संयोजक के पद के अलावा राजस्थान समेत अन्य कई राज्यों में कांग्रेस में ओबीसी विभाग के प्रभारी रह चुके है।

कांग्रेस को एक और झटका देते हुए कांग्रेस ओबीसी विभाग में प्रदेश महासचिव के पद पर रह चुके योगेश कुमार भी जजपा में शामिल हुए। रेवाड़ी जिले से जजपा में शामिल होने वालों में कोसली हलके से पूर्व पार्षद एवं पूर्व इनेलो प्रत्याशी किरणपाल यादव, रेवाड़ी बार एसोसिएशन के छह बार प्रधान रह चुके रवींद्र यादव, वार्ड नंबर 22 के ब्लॉक समिति मेंबर भूपेंद्र यादव, वार्ड नंबर 19 के ब्लॉक समिति सदस्य राकेश यादव, पूर्व चेयरमैन ब्लॉक समिति हीरालाल, पूर्व सरपंच गोकलपुर अनिल, पूर्व सरपंच आकेड़ा वेदप्रकाश, पूर्व सरपंच करावरा मानकपुर हुकम कौर कोसली, पूर्व सरपंच गुगोढ संतोष देवी और पूर्व सरपंच गांव जांट रतिराम शामिल हैं।

महेंद्रगढ़ जिले से जेजेपी में शामिल होने वाले में से नांगल चौधरी के वार्ड नंबर एक के नगर पार्षद कुलदीप, पूर्व सरपंच अकबरपुर सुभाष, सरपंच अकबरपुर कुसुमलता आदि है। वहीं गुरुग्राम जिले से सरपंच बपास हरिओम, पूर्व सरपंच गैराकी मनबीर जजपा में शामिल हुए। सफीदों हलके से 2019 के विधानसभा चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार रह चुके राजबीर शर्मा जजपा में शामिल हुए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस