चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। डॉ. अजय चाैटाला ने जननायक जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनने के बाद भविष्‍य की सियासी रणनीति को लेकर बड़े संकेत दिए हैं। हरियाणा में जजपा अपने गठबंधन साथी भाजपा के साथ चलेगी और उसके साथ दूध-शक्‍कर का रिश्‍ता बनाएगी। इसके साथ ही जजपा हरियाणा से बाहर अन्‍य राज्‍योंं में भी अपना विस्‍तार करेगी।

बरोदा उपचुनाव और शहरी निकायों के चुनावों से पहले जननायक जनता पार्टी (जजपा) नए क्लेवर में आने लगी है। संगठन को पूर्व सांसद डॉ. अजय सिंह चौटाला संभालेंगे तो सरकार में कमान उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के हाथों में रहेगी। संगठन की ओर से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला सितंबर में पूरा प्रदेश नापेंगे तो पार्टी उपाध्यक्ष व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला हर जिले में जाकर कार्यकर्ताओं की समस्याओं को सरकार के स्तर पर हल कराने का बीड़ा उठाएंगे।

अजय चौटाला संभालेंगे संगठन, दुष्यंत चौटाला सरकार में देंगे ध्यान

जजपा नेताओं का कहना है कि प्रदेश में गठबंधन सरकार की अगुवाई कर रही भाजपा के साथ पार्टी का संबंध घी-शक्कर जैसा है। पार्टी के रणनीतिकार भाजपा से संबंध और प्रगाढ़ कर गठबंधन को लंबा चलाने की रणनीति पर चल रहे हैं। वजह यह कि जितनी जरूरत भाजपा को जजपा की है, उससे ज्यादा जरूरत जजपा को भाजपा की है। दिल्ली विधानसभा चुनाव मेें जिस तरह दोनों दलों के बीच कोई टकराव नहीं था, उसी तर्ज पर प्रदेश में बरोदा उपचुनाव और शहरी निकायों के चुनाव मिलकर लड़े जाएंगे।

दिल्ली पैटर्न पर उतरेगी बरोदा के रण में अजय और दुष्यंत की टीम

जजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कुछ इसी तरह की रणनीति बनी है। जजपा का फोकस कार्यकर्ता खासकर दलित और पिछड़े वर्ग को साथ जोडऩे पर रहेगा। इनेलो से छिटके पुराने समर्थकों को वापस लाने की जुगत में सक्रिय अभय चौटाला के जवाब में जजपा ने बड़े भाई अजय चौटाला को आगे किया है। कोरोना काल में पैरोल पर चल रहे अजय चौटाला मौके का फायदा उठाते हुए नए लोगों को पार्टी से जोडऩे का अभियान चलाएंगे।

अजय चौटाला नापेंगे पूरा प्रदेश, दलित और पिछड़ों को जोडऩे की कवायद

लॉकडाउन खुलने के बाद जजपा का संगठन सरकार और जनता के बीच कड़ी का काम भी करेगा। शीर्ष नेताओं के आगामी एक माह के कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। जजपा हरियाणा के साथ-साथ  अब दूसरे राज्यों में भी संगठन खड़ा करने का प्रयास करेगी। इसकी जिम्मेदारी खुद अजय सिंह ने अपने हाथों में ली है। रही सही कसर दुष्यंत पूरी करेंगे।

बरोदा में मिलकर चुनाव लड़ेंगे भाजपा-जजपा

बरोदा उपचुनाव में उम्मीदवार किस पार्टी का होगा, इस बारे में अभी कुछ तय नहीं है। इसके बावजूद अजय सिंह चौटाला ने साफ कर दिया है कि दोनों दल मिलकर मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे और गठबंधन प्रत्याशी उपचुनाव में विजयी होगा। पार्टी का फोकस अब शहरी क्षेत्रों में संगठन को और मजबूत करने के साथ-साथ हर वर्ग के लोगों को जोडऩे पर रहेगा।

एक सप्ताह में पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी का गठन कर दिया जाएगा, जबकि अन्य सभी प्रकोष्ठों की कार्यकारिणी और जिला स्तर के पदाधिकारियों की नियुक्ति भी जल्द की जाएगी। एक बूथ दस यूथ कार्यक्रम की तरह नया अभियान चलाकर हर बूथ पर पार्टी कार्यकर्ताओं को सक्रिय किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: हरियाणा के सीएम मनोहर बोले- नृत्य गोपाल जी खाना खाइये, फिर आप और हम मंदिर बनाने चलेंगे


यह भी पढ़ें: नवजोत सिद्धू के करीबी पर NRI से 1.60 करोड़ की ठगी का केस, खुद को बताया ओएसडी


पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021