जेएनएन, चंडीगढ़। इनेलाे और हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला किसानों के हक में खड़े हो गए हैैं। दिल्ली जा रहे किसानों को रोक कर उन पर मुकदमे दर्ज करने तथा हरियाणा में लाठीचार्ज किए जाने पर चौटाला ने सरकार से जवाबतलब किया है। उन्होंने कहा कि किसानों से किए वादे पूरे नहीं करने के बावजूद उन पर लाठीचार्ज का जवाब विधानसभा में मांगा जाएगा।

विपक्ष के नेता ने कहा विधानसभा में लेंगे लाठीचार्ज और मुकदमेबाजी का हिसाब

अभय चौटाला मंगलवार को पार्टी कार्यालय में प्रमुख पदाधिकारियों के साथ चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू कराने तथा कर्जामाफी के लिए किसान अपनी बात कहने दिल्ली जाना चाहते थे। लेकिन, सरकार ने उन्हें हिरासत में लेकर मुकदमे दर्ज कर दिए।

यह भी पढ़ें: बैंक मैनेजर हनीट्रैप में बुरी तरह फंसा तो कर ली आत्‍महत्‍या

चौटाला ने कहा कि हाल ही में केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दावा किया था कि रबी की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य पहले ही स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के आधार पर दिया जा रहा है। बहुत शीघ्र खरीफ की फसलों के लिए भी न्यूनतम समर्थन मूल्य उसी फार्मूले पर घोषित करने का भरोसा उन्होंने दिलाया, जबकि हकीकत यह है कि किसानों को उनकी लागत भी नहीं मिल रही है।

यह भी पढ़ें: 70 तबादले झेल चुके कासनी छह माह के वेतन बिना होंगे रिटायर

चौटाला ने मुख्यमंत्री के उस दावे को गलत बताया है कि जिसमें कहा गया कि किसानों को दिल्ली जाने से नहीं रोका गया है। यमुनानगर में तो किसानों पर हत्या के प्रयास के मुकदमे दर्ज किए गए। रबड़ की गोलियां चलाई गई। फरीदाबाद व करनाल में भी यही स्थिति रही। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने सरकार पर कर्मचारियों के किए वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप