जागरण संवाददाता, पंचकूला : सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवीलाल स्टेडियम के पीछे वाले गेट पर रविवार सुबह एक व्यक्ति की निर्मम हत्या कर दी गई। बरछे से मृतक के मुंह और शरीर के अन्य हिस्सों पर तेज वार किए गए हैं और मांस पूरी तरह उतर चुका था। हत्या की सूई मृतक के घर पर शनिवार को आए एक पुराने जानकार पर घूम रही है जिसे छोड़ने के लिए मृतक जा रहा था परंतु कुछ देर बाद ही हत्या की सूचना मृतक की पत्नी को मिल गई। हत्या के बाद से पुराना जानकार गायब है और उसका मोबाइल भी बंद है। मृतक गगनदीप सिंह बेदी एक एनआरआइ का बेटा है। मृतक के शव का पोस्टमार्टम इंग्लैंड से माता-पिता के आने के बाद किया जाएगा। जानकारी के अनुसार स्टेडियम के पिछले गेट पर शव की सूचना पुलिस को मिली थी। पुलिस ने मौके का मुआयना किया तो एक पास खड़ी कार से मोबाइल फोन मिला। उसमें फोन आ रहा था। फोन पुलिस की ओर से उठाकर बात की गई तो पता चला कि यह फोन गगनदीप सिंह का है। इस पर पुलिस ने उसकी पत्नी तनु शर्मा को बताया कि पति गगनदीप सिंह को काफी चोटें आई हैं। उसकी पत्नी रिश्तेदारों के साथ मौके पर पहुंची। उसे पता चला कि गगनदीप सिंह की मौत हो गई। तनु शर्मा निवासी गांव मौला, थाना गढ़शंकर, जिला होशियारपुर पिछले कुछ समय से मकान नंबर-511, सेक्टर-26, पंचकूला में पति के साथ किराये पर रह रही है। पत्‍‌नी करती है ज्योतिष का काम, एक साल पहले उबर छोड़ी थी गगन ने

तनु ने बताया कि वह ज्योतिष का काम करती है। उसके पति पहले उबर में काम करते थे परंतु लगभग एक साल पहले छोड़ दिया था। करीब तीन साल पहले गगनदीप अपनी पत्नी एवं बच्चों के साथ गांव रामपुरा मंडी, जिला बठिडा में रहते थे और उसके बाद पंचकूला आ गए थे। उनका नया मकान सेक्टर-27, पंचकूला में 631पी में बन रहा है। 10 अगस्त 2019 को संदीप उर्फ शिबू निवासी निकट वृद्धाश्रम रामपुरा फूल, जिला बठिडा शाम करीब साढ़े 5 बजे उनके घर पर आया था। रामपुरा फूल में पुराना जानकार था संदीप

तनु ने बताया कि संदीप उनका पुराना जानकार है और रामपुरा फूल में उनका पड़ोसी था। रात को सभी खाना खाकर सो गए थे। सुबह संदीप को नाश्ता करवाकर गगनदीप जीरकपुर छोड़ने के लिए कार से सुबह साढ़े 8 घर से निकले थे। करीब 9 बजे तनु ने अपने पति गगनदीप के मोबाइल पर फोन किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। इसके बाद तनु ने संदीप के मोबाइल पर फोन किया तो संदीप का फोन बंद आ रहा था। पुलिसवाला बोला : आपके पति को किसी ने चोटें मारी हैं

काफी देर तक तनु अपने पति गगन को फोन करती रही तो एक पुलिसवाले ने फोन उठाया। उसने तनु को बताया कि गगनदीप को किसी ने ताऊ देवीलाल स्टेडियम के पिछले गेट के पास काफी चोटें मारी हुई हैं। जिसके बाद सूचना मिलते ही तनु मौके पर पहुंची तो देखा कि गगन की मौत हो चुकी थी। संदीप का बैग भी गगन की कार के पास पड़ा हुआ था तथा संदीप फरार था। कहा : जीरकपुर तक छोड़ दो, बाद में कर दिया मर्डर

रविवार को आरोपित संदीप ने गगनदीप सिंह से कहा कि वह उसे जीरकपुर छोड़ दे। आरोपित संदीप ने गगनदीप सिंह को जीरकपुर से बस पकड़ने के लिए कहा था। सेक्टर-26 घर से वह कार से चला। जब वह ताऊ देवीलाल स्टेडियम के पीछे पहुंचा तो उसने कोपा से गगनदीप सिंह पर हमला कर दिया। 25 से अधिक वार बरछे से करने के कारण गगनदीप की मौत हो गई। राहगीर ने लाश देखी तो उसने पुलिस को फोन किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सीन ऑफ क्राइम की टीम ने भी साक्ष्य जुटाए हैं। गगनदीप सिंह को जिस कोपा से मारा गया, उसे भी बरामद कर लिया गया है। उसमें लगे खून के सैंपल लिए गए हैं। गाड़ी में बीयर की बोतल भी मिली है। गाड़ी की सीटों के सैंपल भी टीम ने लिए हैं। हत्या का मामला दर्ज किया गया है। हथियार बरामद करने के अलावा आरोपित की तलाश जारी है।

-प्रदीप कुमार, चौकी प्रभारी, सेक्टर-21, पंचकूला

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप