जागरण संवाददाता, पंचकूला : एक जनवरी 2019 से 31 अक्टूबर 2019 तक सतर्कता विभाग हरियाणा पावर यूटिलिटी के बिजली-पानी थाना अधिकारियों द्वारा 81.30 करोड़ रुपये का राजस्व वसूला गया।

पुलिस महानिदेशक एवं निदेशक सर्तकता पीआर देव ने कहा कि बिजली चोरी रोकने के लिए कोई भी नागरिक टोल फ्री नंबर पर सुबह नौ से शाम पांच बजे तक शिकायत कर सकता है। बैठक में उपस्थित अतिरिक्त निदेशक एसके छिल्लर, पुलिस अधीक्षक बलवान सिंह राणा, एसई इकबाल को निर्देश दिया कि राज्यभर में सभी उप-पुलिस अधीक्षक और थाना प्रबंधक बिजली-पानी चोरी के खिलाफ अभियान चलाएं।

फरीदाबाद में बिजली चोरी के 10528 मुकदमें दर्ज

देव ने बताया कि गुरुग्राम में 18.12, रेवाड़ी में 14.73, फरीदाबाद में 12.20, करनाल में 8.48, रोहतक में 8.33, हिसार में 7.42, जींद में 6.10 और अंबाला में 6.00 करोड़ रुपये की वसूली की गई है। इसके अतिरिक्त बिजली चोरी की शिकायत के फरीदाबाद में 10528, हिसार 8518, करनाल में 6529, जींद में 6041, रोहतक में 6005, रेवाड़ी में 5580, गुरुग्राम में 5259 एवं अंबाला में 2955 मुकदमें दर्ज हुए हैं। वहीं पानी चोरी के रोहतक में 541, हिसार में 58, रेवाड़ी में 91, करनाल में 4, जींद में 10 और मुकदमें दर्ज हुए हैं। बिजली चोरी रोकने के लिए चलाएं जन जागरण अभियान

महानिदेशक पीआर देव ने कहा कि बिजली चोरी को सिर्फ कानून से नहीं रोका जा सकता, इसके लिए हमें बिजली विभाग के इंजीनियर के साथ मिलकर विद्यार्थियों एवं समाज के सभी वर्गों को प्रेरित करना होगा। युवा महोत्सव, एनएसएस एवं एनसीसी के कैडेट भी सामाजिक दायित्व और युवा अभियान के तहत बिजली संरक्षण के लिए जन जागरण अभियान चलाएं। पुलिस इकाई को सकारात्मक सहयोग में पुलिस अधीक्षक बलवान राणा एवं अतिरिक्त निदेशक एसके छिल्लर की विशेष भूमिका रही।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप