जागरण संवाददाता, पंचकूला : लोकतंत्र के सबसे बड़े हवन यज्ञ में पंचकूला के मतदाताओं ने सोमवार को अपनी आहुतियां डाल दी और सभी उम्मीदवारों का भाग्य अब इलेक्ट्रोनिक वोटिग मशीनों में बंद हो गया है। जिले की दोनों विधानसभा सीटों पर लगभग 65 फीसद मतदान हुआ। 24 अक्टूबर को मतगणना के बाद पंचकूला एवं कालका से कौन विधायक बनेगा, नतीजे सबके सामने होंगे। इन दोनों विधानसभा सीटों पर कांग्रेस एवं भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है। पंचकूला में सोमवार को शांतिपूर्वक मतदान संपन्न हो गया। कालका में 70.5 और पंचकूला 59.1 प्रतिशत मतदान हुआ है। मतदाताओं में दिखा जोश

सुबह से ही मतदान केंद्रों पर वोटरों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया था। कहीं पर भी कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में लोगों को जोश देखते ही बन रहा था। मतदान के लिए लंबी लाइनें लगनी शुरू हो गई थी। सभी मतदान केंद्रों पर मतदाताओं के लिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ-साथ दिव्यांग व अधिक आयु के मतदाताओं के लिए व्हीलचेयर की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई थी। हालांकि कुछ जगहों पर दिव्यांगों को परेशानी उठानी पड़ी। अफसर करते रहे दौरा

पंचकूला के डीसी मुकेश कुमार आहूजा एवं डीसीपी कमलदीप गोयल सुबह से ही मतदान केंद्रों का दौरा करते रहे और शाम को वोटिग मशीनें बंद होने तक रिपोर्ट लेते रहे। दोनों अधिकारियों ने जिले के अन्य अति सवेंदनशील श्रेणी के मतदान केंद्रों का विशेष निरीक्षण किया। कड़ी सुरक्षा में रहेंगी ईवीएम

कालका विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम को सेक्टर-14 स्थित राजकीय महिला महाविद्यालय तथा पंचकूला विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम सेक्टर-1 स्थित राजकीय महाविद्यालय के स्ट्रांग रूम में कड़ी सुरक्षा और सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रहेगी। मतगणना 24 अक्टूबर को इन दोनों स्थानों पर ही की जाएगी। दोनों सीटों पर हैं दिग्गज

पंचकूला विधानसभा क्षेत्र पर कांग्रेस प्रत्याशी चंद्रमोहन एवं भाजपा प्रत्याशी ज्ञानचंद गुप्ता के बीच मुकाबला है। जबकि कालका सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप चौधरी एवं भाजपा प्रत्याशी लतिका शर्मा के बीच मुकाबला है। प्रत्याशियों ने नेताओं ने मतदान के दौरान अलग-अलग बूथों पर जाकर अपने कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस