बिजेंद्र बंसल, चंडीगढ़। हरियाणा भवन में भाजपा कोर कमेटी की बैठक में गृह मंत्री अनिल विज ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के संगठनात्मक कौशल की प्रशंसा करने के भाव से कहा था कि अब तक करीब 30 हजार पदाधिकारियों की नियुक्तियां तो हो चुकी होंगी। धनखड़ ने भी विज से मित्रता निभाते हुए तत्काल दावा किया था कि पार्टी संगठन में पदाधिकारियों की यह संख्या 30 नहीं एक लाख पर पहुंचेगी। पंचकूला में 39 साल बाद प्रदेश कार्य परिषद की बैठक का आयोजन करने का श्रेय ले चुके धनखड़ ने अब नई घोषणा की है कि प्रदेश भर में 70 हजार कार्यकर्ता सात लाख घरों में जाकर लोगों से राम-राम करेंगे। यानी राम-राम कहकर जनसंपर्क का यह अनूठा कार्यक्रम तो है ही साथ ही इससे दिल्ली तक यह संदेश भी जाएगा कि हरियाणा भाजपा 70 हजार पदाधिकारियों की बन चुकी है। धनखड़ का संगठन हर मोर्चे पर संघर्ष को तैयार है।

अधिकारियों पर राव का गुस्सा

केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह भाजपा की प्रदेश कार्य परिषद की बैठक में खूब जमकर बोले। राव ने उन वाक्यों का भी प्रयोग किया, जिन्हें लेकर उनके विरोधी अब चर्चा कर रहे हैं। बैठक में राव कुछ बिंदास मूड में थे। उन्होंने उन अधिकारियों पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं, जो फरीदाबाद-गुरुग्राम में वर्षों से डटे हैं। राव ने अधिकारियों की कार्यशैली को लेकर जो मुद्दा उठाया है, उससे अधिकारियों का एक वर्ग खासा नाराज है। हालांकि पार्टी कार्यकर्ताओं के दिल में राव की एक-एक बात उतर गई। असल में राव के संबोधन में फरीदाबाद के खोरी गांव में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हुई तोड़फोड़ का दर्द छलका था। वे चाहते हैं कि गरीबों के आशियाने तोड़ने के साथ उन अधिकारियों पर भी कार्रवाई हो, जिन्होंने पैसे लेकर सरकारी जमीन पर लोगों को बिजली कनेक्शन, सीवर, पानी और सड़क जैसी जनसुविधा उपलब्ध कराई है।

भावांतर से कम होगी बाजरे की बीमारी

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (एचएयू) के विज्ञानियों ने तीन साल की मेहनत के बाद बाजरे की नई बीमारी और इसके कारक जीवाणु क्लेबसिएला एरोजेन्स को खोज निकाला है। विज्ञानी इस रोग के प्रबंधन का काम शुरू करेंगे। केंद्रीय भारी उद्योग राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने विज्ञानियों को बधाई प्रेषित की। इसके साथ ही गुर्जर मुख्यमंत्री मनोहर लाल को भी बाजरे की दूसरी बीमारी दूर करने के लिए बधाई देने से नहीं चूके। गुर्जर ने कहा कि मनोहर सरकार अपने किसानों द्वारा उगाए बाजरे का दाना-दाना खरीदेगी मगर जिस बाजरे को व्यापारी कांग्रेस शासित पड़ोसी राज्यों से लाकर हरियाणा में बेचते रहे हैं, उस पर अंकुश लगाना जरूरी था। इसलिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस बार बाजरे की खरीद भावांतर भरपाई योजना के तहत खरीदने का निर्णय करवाया। एक बीमारी का इलाज एचएयू के विज्ञानियों ने तो दूसरी बीमारी का इलाज मनो सरकार ने ढूंढ निकाला।

तंवर किसका संभालेंगे मोर्चा

सिरसा के ऐलनाबाद में उपचुनाव हो रहा है। यहां से 2004 व 2009 में सांसद बने प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष डाक्टर अशोक तंवर की बात न हो यह तो हो नहीं सकता। डाक्टर तंवर 2019 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को अलविदा कहने के बाद अब राजनीतिक रूप से अपना भारत मोर्चा की स्थापना कर चुके हैं। कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआइ और युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके तंवर पांच साल से अधिक समय प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी रहे। ऐसे में सिरसा सहित प्रदेश भर में उनकी अपनी अलग टीम है। इसके बूते पर वह पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के विरोध में भी जमे रहे। कांग्रेस के बाद उन्होंने 2019 में जजपा के दुष्यंत चौटाला को भविष्य का राजनेता बताया था। ऐलनाबाद में वे किसका मोर्चा संभालेंगे, यह भविष्य के गर्भ में है। फिलहाल वे 20 अक्टूबर को समर्थकों की नब्ज टटोलेंगे।

Edited By: Kamlesh Bhatt