संस, कालका : पुराने नेशनल हाईवे पर रविवार शाम करीब दो घंटों तक ट्रैफिक जाम रहा, जिसमें सैकड़ों वाहन फंसे रहे। रात करीब नौ बजे तो हालात यह थे कि आधे घंटे तक वाहन एक ही जगह पर खड़े रहे, जिससे वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गई। मजेदार बात तो यह है कि एसएचओ की गाड़ी भी जाम में फंसी रही। वहीं, एक एंबुलेंस को भी जाम से निकलने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। अपनी मंडी लगने से लगता है जाम, नहीं होती पुलिस

रविवार को लोअर बाजार में अपनी मंडी लगती है। मंडी में खरीदारी करने के लिए शहर सहित परवाणू, पिजौर, टगरा क्षेत्र, खेड़ा सीताराम, टीपरा और बिटना सहित आसपास के हजारों लोग पहुंचते हैं। शाम ढलते ही लोग यहां वाहनों को इधर उधर बेतरतीब तरीके से करते हैं जिससे पुराने नेशनल हाईवे पर जाम लग जाता है। रविवार को मंडी के बाहर पुलिस भी तैनात नहीं होने के कारण शाम करीब सात बजे वाहनों की कतारें लगनी शुरू हुई और देखते ही देखते यह एक बड़े जाम में तब्दील हो गई। हालात यह थे कि वाहनों को आधा किमी से भी कम की दूरी तय करने में एक घंटे से भी ज्यादा का समय लग रहा था।

रेलवे स्टेशन वाले मार्ग का फाटक खोलकर निकाला ट्रैफिक

इस दौरान जाम में एसएचओ की गाड़ी के साथ साथ एंबुलेंस भी फंसी रही और चालक सायरन बजाता रहा, लेकिन इसका कोई लाभ नहीं हुआ। ऐसे में लोगों ने एंबुलेंस को निकालने के लिए वाहनों को हटाया और रेलवे स्टेशन वाले मार्ग का फाटक खोलकर ट्रैफिक को वहां निकाला। रात करीब दस बजे के बाद यातायात सामान्य हो सका।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस