चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। भाजपा-जजपा गठबंधन की सरकार के सौ दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के गरीब लोगों को बड़ा तोहफा दिया है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना लांच करते हुए सीएम ने माउस के एक क्लिक पर करीब 90 हजार लाभार्थी परिवारों के बैंक खाते में दो किस्तों के चार-चार हजार रुपये डाल दिए। तीसरी दो हजार रुपये की किस्त 31 मार्च से पहले मिलेगी। एक लाख 80 हजार रुपये तक की सालाना आय और पांच एकड़ तक की जमीन वाले परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

भाजपा-जजपा सरकार के सौ दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिया गरीबों को तोहफा

मुख्‍यमंत्री ने बताया कि हरियाणा में ऐसे परिवारों की संख्या 65 से 70 लाख है। अभी तक करीब सवा लाख परिवारों के परिवार पहचान पत्र बन चुके हैं, जिनमें से 90 हजार परिवारों को मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के लिए नामित किया जा चुका है। प्रदेश में जिन परिवारों की आय एक लाख 80 हजार रुपये वार्षिक से कम होगी और पांच एकड़ या उससे कम जमीन रहेगी, उन्हें बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) जीवन यापन करने वाले परिवारों का भी दर्जा दिया जाएगा, जिसका फायदा वह विभिन्न योजनाओं में उठा सकेंगे।

मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना लांच, 90 हजार परिवारों के खाते में पहुंचे चार-चार हजार

फिलहाल सेल्फ डिक्लेरेशन (स्व घोषित) के जरिये यह बताना होगा कि परिवार की आय एक लाख 80 हजार रुपये से कम है, जिसके आधार पर उन्हें छह हजार रुपये वार्षिक का लाभ मिलेगा। यदि यह सूचना सर्वे में गलत मिली तो सरकार द्वारा प्रदान की गई राशि की रिकवरी की जाएगी। हरियाणा निवास में गठबंधन सरकार के 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दावा किया कि पूरे देश में इस तरह की योजना शुरू करने वाला हरियाणा पहला राज्य है।

इस साल की तीसरी और आखिरी किस्त 31 मार्च से पहले, 65 से 70 लाख परिवार होंगे लाभान्वित

मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना में छह योजनाएं शामिल हैं, जिनकी किस्त काटने के बाद बकाया राशि पात्र परिवार के खाते में डाल दी जाएगी। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना, प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना और प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के दायरे में आती हैं।

1.80 लाख रुपये तक सालाना आय और पांच एकड़ तक जमीन वाले परिवार बीपीएल में होंगे शामिल

इन योजनाओं का लोगों को लाभ नहीं मिल पाता। अब सरकार जो पैसा देगी, उसमें से इन योजनाओं के लाभ के लिए प्रीमियम की राशि कट जाएगी और बाकी राशि लाभार्थी के खाते में पहुंच जाएगी। इसका दोहरा फायदा होगा। केंद्रीय योजनाओं के लाभ के साथ ही आर्थिक स्थित भी मजबूत होगी।

माउस क्लिक करते ही मोबाइल पर आया मैसेज

मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना लांच करते हुए जैसे ही सीएम ने माउस क्लिक किया मौके पर मौजूद रीता, यशपाल, नीतिश और संतोष कुमार तिवारी सहित अन्य लोगों के मोबाइल पर दो किस्तों का पैसा उनके बैंक खाते में आने का मैसेज आ गया। यह प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके तहत पात्र परिवारों को कई लाभ दिए जाते हैं। हर परिवार को इस योजना के तहत प्रति वर्ष सालाना छह हजार रुपये दिए जाएंगे। पात्र परिवार के पास आधार कार्ड, एड्रेस प्रूफ, आय प्रमाणपत्र, कृषि भूमि का रिकॉर्ड, बैंक खाते का विवरण और मोबाइल नंबर जरूर होना चाहिए।

यह भी पढ़ें: मनोहर का ऐलान- उद्योगों में 75 फीसद अकुशल कर्मचारी अब हरियाणा के होंगे, सख्‍ती से करेंगे लागू

एक लाख से अधिक परिवारों ने बनवाए परिवार पहचान पत्र

प्रदेश में शुक्रवार शाम तक एक लाख 15 हजार 970 परिवारों ने परिवार पहचान पत्र बनवा लिए हैं। सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए परिवार पहचान पत्र अनिवार्य रहेगा। किसी भी नजदीकी सरल केंद्र या सीएससी पर जाकर परिवार पहचान पत्र बनाया जा सकता है। इसमें परिवार के हर सदस्य की मूलभूत जानकारी यथा परिवार के सदस्य का नाम, आयु, लिंग, टेलीफोन नंबर इत्यादि की जानकारी होगी।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

यह भी पढ़ें: CM मनोहरलाल ने पेश किया100 दिनों का रिपोर्ट कार्ड, कहा- बेरोजगार विपक्ष कर रहा अनर्गल बातें


यह भी पढ़ें: सात स्‍कूली बच्‍चों ने हरियाणा सरकार से जीती जंग, School building के लिए HC में लड़े नौनिहाल

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस