चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को धमकी देनेवाला व्‍यक्ति बेहद खतरनाक माना जा रहा है। रेवाड़ी जिले के इस व्यक्ति के तार कोलंबियाई ड्रग माफिया रह चुके पाब्लो एस्कोबार गैंग से जुड़े होने की आशंका है। इस गैंग का मुखिया पाब्लो 1993 में मर चुका है, लेकिन दुनिया में कई स्थानों पर अभी भी गैंग चल रहा है, जिसका मुख्य काम नशे की तस्करी करने से लेकर राजनीतिक दखलदांजी करने का है। उसकी की धमकी के बाद ही दुष्‍यंत चौटाला कसे जेड श्रेणी की सिक्योरिटी दी गई है।

गैंग का मुखिया पाब्लो एस्कोबार1993 में मारा जा चुका, दुनिया में अभी भी चल रहा गैंग

 

 हरियाणा पुलिस को रेवाड़ी जिले के थाना रामपुरा अंतर्गत गांव दलयाकी के रहने वाले पवन नाम के इस व्यक्ति के बारे में अभी तक ठोक सबूत हाथ नहीं लगे हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान पवन ने दुष्यंत चौटाला को फोन पर धमकी दी थी। फोन संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी आबू धाबी से आया था। बताया जाता है कि पवन वहां मेकेनिक का काम करता है। दुष्यंत चौटाला के निजी सचिव सतीश बैनीवाल की शिकायत पर पवन के विरुद्ध जींद जिले के उचाना थाने में मामला भी दर्ज है, जिसके आधार पर पुलिस ने पवन को जांच में शामिल होने के लिए आबूधाबी से बुलाया था।

रेवाड़ी जिले का पवन यादव हो चुका जांच में शामिल, आबू धाबी जाने पर पुलिस ने लगाई रोक

जींद पुलिस की जांच में शामिल होने को पवन आबूधाबी से आया थी, लेकिन अभी तक वापस नहीं गया। जींद पुलिस ने उसे देश से बाहर जाने की अनुमति प्रदान नहीं की है, लेकिन अभी तक उसके हाथ ऐसा कोई बड़ा सबूत नहीं लगा, जिसके आधार पर पवन को गिरफ्तार किया जा सके। हरियाणा पुलिस को आशंका है कि पवन पाब्लो एस्कोबार गैंग से जुड़ा हुआ है, लेेकिन अभी तक इसका कोई साक्ष्य नहीं मिल पाया है।

पवन यादव ने विधानसभा चुनाव के दौरान दुष्यंत चौटाला से कोई फिरौती नहीं मांगी थी। जैसी कि इस गैंग के सदस्यों की प्रवृत्ति है, उसके मुताबिक दुष्यंत चौटाला को उल्टी-सीधी बयानबाजी नहीं करने और अपनी राजनीतिक हद में रहने की धमकी दी गई थी।

दुनिया के सबसे बड़े अपराधियों में था पाब्लो एस्कोबार

पाब्लो एमिलियो एस्कोबार गैविरिया एक कोलंबियाई ड्रग माफिया था। कभी दुनिया का सबसे बड़ा अपराधी कहा जाने वाला पाब्लो एस्कोबार संभवत: कोकीन का अब तक का सबसे चालबाज सौदागर माना जाता है। उसे विश्व इतिहास में सबसे अमीर और सबसे खतरनाक अपराधी माना जाता है। वर्ष 1989 में फ़ोर्ब्स पत्रिका ने एस्कोबार को दुनिया का सातवां सबसे अमीर व्यक्ति घोषित किया था, जिसकी अनुमानित व्यक्तिगत संपत्ति 25 बिलियन अमेरिकी डॉलर थी।

उसके पास असंख्य लग्जरी आवास एवं गाडिय़ां थीं और 1986 में उसने कोलंबिया की राजनीति में प्रवेश करने का प्रयास किया था। यहां तक कि उसने देश के 10 बिलियन डॉलर के राष्ट्रीय कर्ज को चुका देने की पेशकश भी रखी थी। कहा जाता है कि पाब्लो एस्कोबार ने एक बार सफर करते समय गर्मी के लिए दो मिलियन डॉलर की नगदी रकम जला दी थी। कुछ इन्हीं किस्सों और अन्य कुख्यात उपलब्धियों ने एस्कोबार को अपराध की दुनिया का बादशाह बना दिया था। उसकी इच्छा थी कि वह राजनीति में किंग बने। पाब्लो उस समय तक 22 वर्ष की उम्र में ही एक करोड़पति बन गया था। एक दिसंबर 1949 को जन्म पाब्लो का देहांत दो दिसंबर 1993 को हो गया था।

'पवन की गिरफ्तारी का अभी ठोस आधार नहीं'

'' डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को फोन पर धमकी देने के मामले में रिपोर्ट दर्ज है। इस पूरे मामले की जांच चल रही है। रेवाड़ी जिले के जिस पवन यादव नाम के व्यक्ति ने धमकी दी, उसे जांच में शामिल किया गया। वह जांच में शामिल होने को आया भी। जब तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंचते, उसे आबूधाबी जाने से रोका गया है। पुलिस को आशंका है कि पवन पाब्लो एस्कोबार गैंग से जुड़ा हो सकता है। पवन की गिरफ्तारी का अभी कोई ठोस आधार सामने नहीं आया है। सारे एंगिल पर जांच चल रही है।

                                                                                                             - अश्विन शेणवी, एसपी, जींद।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस