जेएनएन, चंडीगढ़। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित पूरे एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में प्रदूषण पर छिड़े सियासी घमासान के बीच हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने केंद्र सरकार से मदद मांगी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखी चिट्ठी में चौटाला ने आइआइटी कानपुर द्वारा विकसित तकनीक से कृत्रिम बरसात कराने का अनुरोध किया है। साथ ही आइआइटी कानपुर को तकनीकी सहायता व एयरक्राफ्ट उपलब्ध कराने की वकालत की है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। इसमें वायु प्रदूषण से निपटने के लिए वैज्ञानिक तकनीक क्लाउड सीडिंग (कृत्रिम बरसात) की तकनीक का इस्तेमाल करने की गुजारिश की गई है। डिप्टी सीएम ने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री व्यक्तिगत रुचि लेकर इसे लागू कराएंगे। चिट्ठी में दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि पूरा एनसीआर क्षेत्र पिछले कई दिनों से वायु प्रदूषण की भारी समस्या को झेल रहा है। प्रदूषण से निजात पाने के लिए युद्धस्तर पर कृत्रिम बारिश की योजना पर काम किया जाए क्योंकि भविष्य में यह समस्या गंभीर रूप धारण कर सकती है।

दुष्यंत ने आइआइटी कानपुर द्वारा तैयार की गई कृत्रिम बरसात के जरिए वायु प्रदूषण के स्तर को कम करने की तकनीक को सराहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आइआइटी कानपुर की इस योजना को लागू करने में मदद करे।

जजपा ने नियुक्त किए तीन नए जिला अध्यक्ष

जननायक जनता पार्टी (जजपा) ने संगठन का विस्तार करते हुए तीन नए जिला अध्यक्षों की नियुक्तियां की हैं। पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने बताया कि यमुनानगर में मांगे राम, करनाल में प्रेम शाहपुर और नूंह में तैय्यब हुसैन को नया जिला अध्यक्ष बनाया गया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप