चंडीगढ़, जेएनएन। जननायक जनता पार्टी के संरक्षक एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने नौकरियों में आरक्षण पर नया दांव खेला है। उन्‍होंने राज्‍य में निजी क्षेत्र की नौकरियों में हरियाणा के युवाओं के लिए आरक्षण की व्‍यवस्‍था की है। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए कानून बनाया जाना चाहिए। इसके साथ ही उन्‍हाेंने सरकारी नौकरियों के मुद्दे पर भाजपा सरकार की घेराबंदी भी की। उन्होंने मनोहरलाल सरकार से साढ़े चार साल में दी गई सरकारी नौकरियों के बारे में श्‍वेत पत्र जारी करने की मांग की।

कहा- निजी क्षेत्र की नौकरियों हरियाणवियों लिए मांगा आरक्षण, नौकरियों पर सरकार को घेरा

वह यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य के प्राइवेट संस्थानों में प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार आरक्षित किया जाना चाहिए। इसके लिए कानून बनाए जाए। दुष्‍यंत ने सरकारी नौकरियों के बारे में मनोहरलाल सरकार के दावे पर सवाल उठाया। उन्‍होंने कहा कि सीएम 60 हजार लोगों को नौकरी देने का दावा कर रहे, लेकिन जिन 30 हजार लोगों ने रिटायरमेंट अथवा अन्य कारणों से नौकरी छोड़ी, उसका जिक्र नहीं करते। मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल अपने कार्यकाल के साढ़े चार में हरियाणा में सरकारी नौकरियों के बारे में श्‍वेत पत्र जारी करेें। इससे सारी सच्‍चाई सामने आ जाएगी और सारी असलियत सामने आ जाएगी।

यह भी पढ़ें: ट्रेनों में कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा तो करें यह उपाय, IRCTC की खास सुविधा का यूं उठाएं लाभ

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल में ग्र्रुप डी की नौकरियां देकर युवाओं की योग्यता को नजर अंदाज किया है। अब उन्होंने इन नौकरियों को छोड़कर वाजिब रोजगार की तलाश शुरू कर दी है। दरअसल इस सरकार ने रोजगार के नाम पर हरियाणा के युवाओं से छल किया है।

दुष्यंत चौटाला ने एसवाईएल नहर का निर्माण नहीं होने तथा पानी की कमी के मुद्दे पर भी भाजपा से जवाब मांगा है। दुष्यंत ने कहा कि आज तक किशाऊ, लखवार तथा रेणुका बांध के प्रोजेक्ट पूरे नहीं हुए। एसवाईएल पर हरियाणा के हक में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को जानबूझ कर लागू नहीं किया जा रहा। मुख्यमंत्री ढाई साल में प्रधानमंत्री के साथ सर्वदलीय बैठक तक नहीं करा सके।

यह भी पढ़ें: गुरमीत राम रहीम का यह मामला फिर गर्माया, लपेटे में बादल पिता पुत्र भी आए

 

दुष्यंत चौटाला ने विधानसभा चुनाव में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के साथ किसी भी तरह के गठजोड़ की तमाम संभावनाएं खारिज कर दी। उन्‍होंने इनेलो प्रमुख और अपने दादा ओमप्रकाश चौटाला से सवाल किया कि जिन कांग्रेसियों ने उन्हें जेल पहुंचाया, उनके प्रति अचानक उमड़ रहे प्रेम की वजह क्या है।

यह भी पढ़ें: घर-घर पहुंच रहा मीठा जहर और कहीं आप भी तो नहीं हो रहे शिकार, ऐसे टूट रहा कहर

उन्होंने कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ द्वारा दक्षिण हरियाणा में अवैध खनन की सीबीआइ जांच की मांग का समर्थन किया। उन्‍होंने कहा कि यमुना नदी से सटे पंचकूला, अंबाला, यमुनानगर और करनाल जिलों में अवैध खनन हो रहा है। इसकी भी सीबीआइ जांच होनी चाहिए। एक सवाल के जवाब में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले संयुक्त बैठक में आम आदमी पार्टी के साथ सीटों का बंटवारा हो जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Kumar Jha