जेएनएन, चंडीगढ़। अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पूरे हरियाणा को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सभी जिलों में पुलिस बल को चौकस किया गया है। विभिन्न जिलों में धारा 144 लगा दी गई है। इसको लेकर गत देर सायं पुलिस महानिदेशक मनोज यादव और गृह सचिव नवराज संधू के बीच बैठक हुई। इसके अलावा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी कानून व्यवस्था और सुरक्षा की जानकारी ली।

इससे पहले कानून व्यवस्था बनाए रखने और शांति भंग नहीं होने देने के लिए गृह विभाग ने पुलिस को असामाजिक तत्वों की धरपकड़ के निर्देश दिए। सभी धर्मों के गुरुओं ने भी अपने स्तर पर बैठकों का दौर शुरू किया है ताकि माहौल न बिगड़े। पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने सभी पुलिस आयुक्तों और एसपी को कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। सामाजिक सौहार्द खराब करने वाले शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाएगी।

सभी जिलों में पुलिस अफसर समाज के विभिन्न वर्गों, धार्मिक गुरुओं, प्रबुद्धजनों, सामाजिक व्यक्तियों से सीधा संवाद करेंगे ताकि अनहोनी की आशंका से निपटा जा सके। इस दौरान सभी धार्मिक स्थानों, व्यापारिक और सार्वजनिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। सोशल मीडिया पर अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए खुफिया विभाग और आइटी विशेषज्ञों को लगाया गया है।

एक हजार से अधिक बदमाश गिरफ्तार

पुलिस ने एक महीने चले विशेष अभियान में 1076 उद्घोषित अपराधियों (पीओ), बेल जंपरों और कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार किया है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क ने बताया कि 15 अक्टूबर तक चले अभियान में 464 पीओ, 573 बेल जंपर्स और 39 कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।

लूट, चोरी, स्नैचिंग और अन्य जघन्य अपराधों में गिरफ्तार आरोपितों से 249 पिस्तौल, छह रिवॉल्वर, पांच बंदूकें, 248 कारतूस, आठ चाकू और एक तलवार जब्त की गई। फरीदाबाद में सर्वाधिक 71 पीओ और 54 बेल जंपर्स पकड़े गए, जबकि गुरुग्राम मे 49 और सोनीपत में 44 पीओ गिरफ्तार हुए हैं। अंबाला में 48 व करनाल में 47 बेल जंपर्स को काबू किया गया है। इस दौरान अंबाला में 11 और हिसार में 10 कुख्यात अपराधी दबोचे गए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप