संवाद सहयोगी,होडल: अपनी मांगों को लेकर आंगनबाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर यूनियन की हड़ताल 45वें दिन में प्रवेश कर गई है। शुक्रवार को आंगनबाड़ी वर्कर्स ने अन्य विभागों के कर्मचारियों के साथ विश्राम गृह में बैठक का आयोजन किया, जिसकी अध्यक्षता आंगनबाड़ी होडल ब्लाक प्रधान कमला देवी व हसनपुर की ब्लाक प्रधान विमलेश फौजदार ने की और संचालन जिला उपप्रधान शशि देवी ने किया। बैठक के बाद एकत्रित सभी कर्मचारी जुलूस के रूप में नारेबाजी करते हुए स्थानीय विधायक जगदीश नायर के कार्यालय पहुंचे, जहां कर्मचारियों ने उनकी गैर मौजूदगी में उनके भतीजे धर्मेंद्र नायर को ज्ञापन सौंपा।

इस अवसर पर सीटू्र के जिला प्रधान पालसिंह भाटी ने बताया कि सरकार द्वारा तीन दौर की वार्ता आंगनबाड़ी वर्कर्स यूनियन के साथ की जा चुकी है, लेकिन हर बार सरकार एक या दो मांगों पर टालमटोल करती है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा 2018 में पूरे देश की आंगनबाड़ी वर्कर्स के लिए पंद्रह हजार तथा हेल्पर के लिए साढे़ सात सौ की पूरे घोषणा की थी, लेकिन प्रधानमंत्री द्वारा की गई घोषणा को 3 साल बीतने के बाद भी इसका लाभ अभी तक नहीं मिला है। विधायक को सौंपे ज्ञापन में देवेंद्र नंबरदार व अन्य कर्मचारी नेताओं ने कहा कि सरकार द्वारा उनकी मांगों का समाधान नहीं किया तो यह आंदोलन को और तेज किया जाएगा। इस अवसर पर सभी वक्ताओं ने करनाल में 5 आंगनबाड़ी वर्कर्स नेताओं पर की गई कार्रवाई पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि यदि सरकार ने अपने आदेश वापस नहीं लिए तो सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा, सीआइटी हरियाणा, किसान संगठन और रिटायर कर्मचारी संघ सड़कों पर उतरने को मजबूर होंगे। इस अवसर पर देवकी रोशनी, महावीर,लक्ष्मीचंद, प्रदीप, राजपाल, बिजेंदर, उर्मिला रावत, सीमा देवी व मंजू शर्मा, संतोष, मोनिका, हीरावती, राजबाला आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

Edited By: Jagran