जागरण संवाददाता, नगीना : जिले की राजधानी कहे जाने वाले बड़कली चौक व नगीना में बिजली नहीं आने से लोगों में हाहाकार मचा हुआ है। सरकार के रमजान माह में पूरी बिजली देने के आदेशों का बिजली निगम पर कोई असर नही है। नगीना की बिजली उसी कट के हिसाब से चल रही है, जिस प्रकार से रमजान से पहल चल रही थी। रमजान शुरू होते ही रात में 11 से 2 बजे तक 3 से 7 बजे तक अघोषित कटों का सिलसिला जारी है। इसके बाद में बृहस्पतिवार को दिन में 11 बजे से दोपहर 12 बजकर 30 मिनट तक का कट जारी रहा है। क्षेत्र के रोजेदार अहमद मुस्तलहा, अजरूद्दीन, इक्का, रमेश चंद प्रजापति, इरफान राजाका, मोइन खान, नजर आलम ने शांतिपूर्वक रोष प्रकट करते हुए कहा कि बिजली निगम के अधिकारी व कर्मचारी सरकार के आदेशों की अवहेलना कर रहे हैं। जिससे रोजेदारों को परेशान होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि इन अधिकारियों को इस माह में पूरी बिजली देनी चाहिए। ताकि रोजेदारों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो। रमजान में भी बिजली-पानी की किल्लत बदस्तूर बनी हुई है। नगीना में 24 घंटे के बिजली देने के आदेश संबंधित पत्र कार्यकारी अभियंता ने भेज दिया है। यदि बिजली पूरी नहीं आ रही है तो उसके लिए पावर हाउस नगीना पर कर्मचारी जिम्मेदार हैं।

- कृष्ण लाल, एसडीओ, बिजली निगम। हमारे पास उच्चाधिकारियों से नगीना की बिजली को 24 घंटे चलाने के आदेश नहीं है। बाकि गांवों की बिजली को 24 घंटे देने का आदेश हैं। इसीलिए केवल नगीना में पहले की तरह ही कट लगाए जा रहे है।

- तारिफ हुसैन, ऑपरेटर बिजली निगम।

By Jagran