संवाद सहयोगी, पिनगवां: आर्य वेद प्रचार मंडल की वार्षिक सभा का आयोजन पुन्हाना अनाजमंडी में प्रधान उमेश आर्य के कार्यालय पर हुआ। जिसमें जिले और सटे इलाकों के आर्य समाज के पदाधिकारियों ने शिरकत की। बैठक का शुभारंभ हवन यज्ञ के साथ हुआ। तत्पश्चात सभी पद अधिकारियों ने एक मत होकर आर्य समाज को मजबूत करने के लिए चर्चा करते हुए अपने -अपने सुझाव दिए। साथ ही कुछ बिंदुओं पर चर्चा की।

आर्य वेद प्रचार मंडल के प्रधान उमेश आर्य ने कहा की देश को आजाद कराने में आर्य विचारधारा के लोगो की अहम भूमिका रही है। आर्य विचारधारा को आज की पीढ़ी के बीच पुनर्जीवित करना होगा और हमारे समाज को भ्रमित करने वाली पश्चिमी सभ्यता का नाश करना होगा और यह तभी संभव है जब आज हम सभी लोग यह ठान लेंगे की हम प्रतिदिन यज्ञ करेंगे और अपना अधिकतर समय वेदों का ज्ञान लेने में देंगे। बैठक में आए हुए दूर दराज से पद अधिकारियों ने मिलकर कुछ निर्णय भी लिए, जिसमें निर्णय रहा की मई में भव्य सम्मेलन होगा जिसमें देश भर से आर्य समाज के लोग भाग लेंगे। आर्य समाज के प्रचारक और भजन उपदेशकों को फिरोजपुर झिरका में सामूहिक रूप से सम्मानित भी किया जाएगा। जो आर्य समाज संस्थान बंद है उनका उत्थान कर सुचारू रूप से चलाया जाएगा। इस मौके पर संरक्षक पदम् आर्य, मित्रसेन आर्य, नरदेव आर्य, महामंत्री सुरेश आर्य, उप प्रधान बंटी उ़र्फ शिवकुमार, ज्ञानचंद आर्य, कोषाध्यक्ष रामवतार, भट्टा एसोसिएशन के प्रधान जवाहरलाल, भानीराम मंगला, वेदप्रकाश परमार्थी मरोड़ा, आचार्य तरुण आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran