संवाद सहयोगी, फिरोजपुर झिरका : जिला वायरल फीवर के प्रकोप से जूझ रहा है। फिरोजपुर झिरका में भी इसका कहर निरंतर बढ़ता जा रहा है। दरअसल बारिश के बाद तेजी से बदल रहे मौसम की वजह से क्षेत्र में बुखार के मामले बढ़ रहे हैं। इलाके पर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह नजर बनाए हुए है। इस संदर्भ में विभागीय टीमों ने शुक्रवार को एक सघन अभियान चलाकर लोगों के घरों में दस्तक दी और उनके यहां बुखार से जूझ रहे लोगों की जांच की। टीम ने मौके पर घरों में लगे कूलर, पानी की टंकी व गमलों में जमा हो रहे बारिश के पानी को साफ करवाया और दवाएं वितरित की।

बता दें कि पिछले दो माह से जिले के अधिकांश इलाके वायरल की चपेट में आए हुए हैं। अगस्त माह में बारिश कम होने तथा मौसम में बदलाव होने से लोगों को राहत मिली थी, लेकिन सितंबर माह शुरू होते ही बारिश ने मौसम में पूरी तरह बदलवा ला दिया। क्षेत्र में वायरल फीवर के साथ ही मलेरिया और डेंगू के संभावित खतरे को भांपते हुए स्वास्थ्य विभाग ने रोकथाम के प्रयास तेज कर दिए हैं। इस संबंध में विभाग की दर्जनों टीमों ने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में एक सघन अभियान चलाकर लोगों की जांच की और उन्हें जरूरी दवाइयां उपलब्ध कराई। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लोगों को सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा।

फिरोजपुर झिरका के एसएमओ डा. कृष्ण कुमार ने बताया कि क्षेत्र में वायरल फीवर का प्रकोप है। इसकी रोकथाम हेतु स्वास्थ्य विभाग की कई टीमों को शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में उतारा गया है। मौसम में बदलाव के चलते यह स्थिति उत्पन्न हुई है। धीरे-धीरे जब मौसम सामान्य होगा तो वायरल फीवर का प्रकोप भी कम होने लगेगा। क्षेत्र के लोगों से अपील है कि वे कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए टीकाकरण अवश्य करा लें।

Edited By: Jagran