पुन्हाना, जागरण टीम: मनरेगा योजना में फैले भ्रष्टाचार व घोटालों को लेकर मुख्यमंत्री उड़नदस्ता रेवाड़ी की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है। बिछौर थाने के गांव सुनेहड़ा में कैटल शैड के नाम पर किए गए घोटाले की जांच के बाद टीम के उप निरीक्षक सतेंद्र सिंह द्वारा शिकायत देकर गबन और धोखाधड़ी के आरोप में बीडीपीओ, बैक मैनेजर, एबीपीओ, सहायक लेखाकार, जेई व बैंक खजांची सहित 13 लोगों के विरुद्ध मामला भी दर्ज कराया गया है। उड़नदस्ते की बड़ी कार्रवाई के बाद पंचायत विभाग में हड़कंप मच गया है। वहीं लंबे समय से न्याय के लिए गुहार लगा रहे शिकायतकर्ता ने राहत की सांस ली है। मुख्यमंत्री उड़नदस्ते के डीएसपी राजेश चेची ने बताया कि सुनेहड़ा गांव में कैटल शैड में घोटाला करने के आरोप में शिकायत मिली थी, जिसकी जांच का जिम्मा रेवाड़ी टीम को सौंपा गया। जांच में कैटल शैड के बिलों व एमबी से लेकर मौके पर बने हुए कैटल शैडों में भी भारी अनियमितताओं के साथ ही करीब 10 लाख रुपये का गबन पाया गया। इसके साथ ही जांच में मृत लोगों के नाम पर मजदूरी दिखाने के साथ ही बैंक के मैनेजर से मिलीभगत कर फर्जी खाते खोलकर मजदूरी की राशि निकाल ली गई। मृत लोगों को मजदूर दिखाकर उनकी मस्टरोल जारी की गई। जांच में पाया गया कि मैट अनीश पुत्र अब्दूल सत्तार निवासी सुनहेड़ा, जफर अब्बास ग्राम सचिव, अजमत जेई, एबीपीओ संजय, एबीपीओ अरशद, विपिन कुमार सहायक लेखाकार, अरशद सहायक लेखाकार, बीडीपीओ डिगंबर, प्रोपराईटर सिंगारिया ट्रैडर्स अंजूम खान पुत्र मुबारिक निवासी जैवंत, कापरेटिव बैंक पुन्हाना के मैनेजर मुबीन खान व खजांची हनीफ ने आपस में मिलीभगत कर गबन व धोखाधड़ी की, जिसको लेकर सभी 13 आरोपितों के विरुद्ध बिछौर थाना पुलिस को शिकायत देकर मामला दर्ज कराया गया है। पंचायत विभाग में गबन व घोटालों की काफी शिकायत मिल रही है। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर उन पर जांच करने के साथ सख्त कार्रवाई भी कराई जा रही है। उड़नदस्ते की यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। - राजेश चेची, डीएसपी मुख्यमंत्री उड़नदस्ता फरीदाबाद मुख्यमंत्री उड़नदस्ते के अधिकारी की शिकायत पर 13 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। - शमशेर सिंह, डीएसपी पुन्हाना

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट