अख्तर अलवी, फिरोजपुर झिरका क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए प्रदेश सरकार फिरोजपुर झिरका की आरावली की वादियों में सरकारी कॉलेज का निर्माण करने जा रही है। इसको लेकर स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों द्वारा करीब 10 एकड़ भूमि की पैमाइश कर फाइनल डीपीआर तैयार कर उसे सरकार के समक्ष भेजा जा चुका है। क्षेत्र में दशकों से चली आ रही कॉलेज की मांग के पूरा होने पर क्षेत्र के युवाओं का उच्च शिक्षा पाने का सपना अब साकार होने वाला है। कॉलेज बनने के बाद इसका फायदा क्षेत्र के युवाओं को ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्य राजस्थान के युवाओं को भी होने वाला है।

बता दें, कि क्षेत्र में उच्च शैक्षिक संस्थानों की कमी के चलते क्षेत्र के युवा वर्तमान में या तो उच्च शिक्षा पाने के लिए बाहरी शहरों में जाते हैं या फिर उन्हें उच्च शिक्षा पाने से ही महरूम रहना पड़ता है। प्रदेश सरकार ने क्षेत्र में कॉलेज की कमी को दूर करते हुए यहां एक भव्य कॉलेज बनाने का निर्णय लिया है। जानकारी मिली है कि सरकार द्वारा इसके लिए 12 से 13 करोड़ रुपये का फंड भी जारी कर दिया गया है। उच्च शिक्षा का युवाओं का सपना होगा साकार:

फिरोजपुर झिरका शहर में बनने जा रहे सरकारी कॉलेज से क्षेत्र के युवाओं का उच्च शिक्षा पाने का सपना साकार हो जाएगा। कॉलेज से क्षेत्र ही नहीं बल्कि आसपास के कस्बों में रहने वाले युवाओं को भी इससे काफी फायदा होगा। बाहरी शहरों में कॉलेज होने के चलते वर्तमान में क्षेत्र के युवा उच्च शिक्षा पाने से महरूम चले आ रहे हैं। क्षेत्र के लोगों ने जताया भाजपा सरकार का आभार:

फिरोजपुर झिरका में कॉलेज बनाए जाने पर क्षेत्र के लोगों ने प्रदेश सरकार का आभार जताया है। क्षेत्र के ओमप्रकाश, दीन मोहम्मद, आजाद खान, एजाज अहमद, पूर्व बार प्रधान यावर आलम आदि ने कहा कि प्रदेश सरकार ने हकीकत में ही क्षेत्र के लोगों को बिन मांगे ही बड़ा तोहफा दिया है। इसके लिए हम प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का दिल से आभार जताते हैं। जो काम कांग्रेस ने 70 सालों में नहीं किया वो काम हमारी भाजपा सरकार ने मात्र तीन साल के कार्यकाल में कर दिखाया। जिले में मेवात कैनाल, दिल्ली-मुंबई मेगा एक्सप्रेस-वे, फिरोजपुर झिरका में सरकारी कॉलेज हमारी सरकार की देन है।

-सुरेंद्र देशवाल, जिलाध्यक्ष।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप