जागरण संवाददाता, नूंह : अपने जोश, जुनून और जज्बे से एक 58 वर्ष के व्यक्ति ने ऐसी उपलब्धि हासिल की है जो आज के युवा वर्ग के लिए मिसाल है। नूंह शहर के रहने वाले जेबीटी अध्यापक आबिद हुसैन ने मलेशिया में आयोजित वेट लिफ्टिंग प्रतियोगिता के एशियन पेसिफिक मास्टर खेल में 9 सितंबर को गोल्ड मेडल प्राप्त कर न केवल जिले का बल्कि प्रदेश व देश का नाम रोशन किया है। इस प्रतियोगिता में एशिया के 38 देशों ने भाग लिया है। प्रतियोगिता में दूसरा स्थान प्राप्त करने वाला खिलाड़ी भी भारत का ही है। जबकि तीसरे स्थान सिंगापुर को मिला है।

अध्यापक आबिद हुसैन की सफलता पर नूंह शहर के साथ जिले के लोगों में भारी हर्ष देखा जा रहा है। एशिया पेसिफिक मास्टर्स गेम्स 2018 पेनांग मलेशिया में आयोजित सात से पंद्रह सितंबर तक चलने वाली वेट लिफ्टिंग प्रतियोगिता के 77 किलोग्राम भारवर्ग में भारत को सोना दिलवाया है। जेबीटी अध्यापक आबिद हुसैन ने वैसे तो यह कारनामा कोई पहली बार नहीं किया। इससे पूर्व भी वह कई मौकों पर जिले के नाम को रोशन कर चुके हैं। अध्यापक आबिद हुसैन के छोटे भाई जाकिर हुसैन हरियाणा पुलिस भी वेट लिफ्टिंग के अच्छे खिलाड़ी रहे हैं। अध्यापक आबिद हुसैन के कई शिष्य भी वेट लिफ्टिंग में विश्व विद्यालय स्तर पर मेडल जीत चुके हैं। आबिद हुसैन ने इस कामयाबी के लिए अपने कोच अरशद मलिक के अलावा अपने माता-पिता व दोस्तों को दिया है। अध्यापक आबिद अभी मलेशिया में ही है। जिले में असुविधाओं के अभाव में विश्व स्तर पर पदक जीतना बहुत ही गौरव की विषय है।

Posted By: Jagran