जागरण संवाददाता, नूंह: उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने कहा कि हरियाणा सरकार की प्राथमिकता है कि किसानों को समय पर खाद उपलब्ध हो। प्रशासन जिले में खाद की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए कार्य कर रहा है। उन्होंने किसानों को सरसों के लिए सिगल सुपर फास्फेट (एसएसपी) खाद का इस्तेमाल करने की सलाह दी।

कैप्टन उपायुक्त शक्ति सिंह ने कहा कि सरसों की बुआई के लिए एसएसपी सबसे अच्छा विकल्प है क्योंकि उसमें फास्फोरस के अलावा सल्फर तत्व भी होता है। गेहूं की बुआई में एनपीके खाद का प्रयोग करें, इसमें तीन मुख्य तत्वों की मात्रा होती है और पैदावार भी अच्छी होती है। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों को सरसों की बुआई के समय एसएसपी खाद प्रयोग करने के लिए जागरूक करें क्योंकि यह सरसों की खेती के लिए लाभकारी है।

उपायुक्त ने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में कृषि योग्य भूमि के हिसाब से सरसों की बुआई के लिए डिमांड के हिसाब से खाद उपलब्ध करवाकर सही से वितरित किया जाए ताकि सरसों की बुआई समय पर की जा सके। गेहूं की बुआई को ध्यान में रखकर जिला स्तर पर खाद का डाटा तैयार किया जाए ताकि जिले में खाद की कितनी जरूरत है सी हिसाब से खाद का वितरण किया जाए। उन्होंने कहा कि सरसों व गेहूं की फसलों की बुआई के लिए और अधिक डीएपी खाद की सप्लाई बढ़ाई जाएगी। आगामी रबी फसलों की बुआई के लिए पर्याप्त मात्रा में यूरिया, डीएपी, एनपीके, एसएसपी खाद उपलब्ध कराया जा रहा है। डीसी ने कहा कि जिले के सभी एसडीएम व कृषि अधिकारी खाद वितरण कार्य को देख रहे हैं। उपनिदेशक कृषि प्रताप सिंह की टीम सुचारू रूप से खाद विक्रेताओं का ओपनिग व क्लोजिग स्टाक चेक कर रही है।

Edited By: Jagran