जागरण संवाददाता, फिरोजपुर झिरका : सोमवार को आए 10वीं के परीक्षा परिणामों में गुरुजनों की मेहनत पर उस समय पानी फिर गया जब परीक्षा परिणामों को देखकर उनके होश ठिकाने आ गए। दरअसल फिरोजपुर झिरका के सरकारी स्कूलों का परीक्षा परिणाम बेहद निराशाजनक रहा।

सबसे अधिक निराश करने वाला रिजल्ट अगोन और पाठखोरी के स्कूल का रहा। यहा दोनों विद्यालयों के 150 बच्चों में से केवल छह ही बच्चे 10वीं की परीक्षा पास कर पाए। जबकि रावली के 41 बच्चों में से भी तीन ही पास हो पाए। इसके अलवा दोहा के 33 में से छह, मंहू के 26 में से 5 और बडेड के 22 बच्चों में से केवल 2 ही बच्चों ने दसवीं की परीक्षा पास की। इसके अलावा कुछ विद्यालय ऐसे रहे जिनका परीक्षा परिणाम औसतन ठीक रहा। साकरस के 105 बच्चों में से केवल 27 बच्चे पास हुए। इनमें 13 प्रथम श्रेणी से पास हुए जबकि द्वितीय श्रेणी से इस विद्यालय के 12 बच्चे पास हुए। इसके अलावा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कन्या फिरोजपुर झिरका की 124 में से 35 छात्राओं ने परीक्षा पास की। वहीं वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बॉयज के 118 में से 33 बच्चों ने परीक्षा पास की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस