संस, कनीना: हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश में आठवीं की बोर्ड की परीक्षा लागू किये जाने पर शिक्षा से जुड़े लोगों में खुशी का माहौल है। जिसमें सरकार ने कहा है कि यदि वर्तमान शैक्षणिक स्तर से आठवीं की बोर्ड परीक्षा संभव नहीं हो पाई तो अगले स्तर से प्रभावी तौर पर इसे लागू कर दिया जाएगा। जहां बोर्ड की परीक्षा के अनुसार हरियाणा में निशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2011 में बदलाव कर बोर्ड परीक्षा शुरू की जाएगी। यदि शैक्षणिक स्तर के अंत में विद्यार्थी न्यूनतम पास अंक प्राप्त नहीं करता तो पास होने के लिए दो और अवसर प्रदान किए जाएंगे। न्यूनतम अंक प्राप्त न करने पर उनके लिए अलग से प्रशिक्षण दिया जाएगा। अध्यापक नेता धर्मपाल शर्मा, निर्मल शास्त्री, कंवरसेन वशिष्ठ ने इस निर्णय को समाज के हित में बताया है। अभी तक विद्यार्थियों में किसी प्रकार का कोई भय का माहौल नहीं था। इसके चलते पढ़ाई सही ढंग से नहीं हो पा रही थी।

--

क्षेत्र में हुई हल्की बूंदाबांदी

संस, कनीना: लंबे अरसे से गर्मी के बाद बुधवार शाम को बूंदाबांदी हुई। बूंदाबांदी लंबे समय तक चली। अच्छी बारिश का किसानों को इंतजार है। अभी तक उनकी आशा पूरी नहीं हो पाई है। बूंदाबांदी से ही काम चल रहा है। बाजरे की 19000 हेक्टेयर पर बीजाई की जानी है। कृषि विभाग 30 से 40 फीसदी बीजाई बाकी बता रहा है। यह बूंदाबांदी फसल के लिए लाभप्रद मानी जा रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021